गोपालगंज के कुचायकोट में नई नवेली दुल्हन जीती चुनाव, निवर्तमान मुखिया को 1768 वोट से हराया

994

गोपालगंज में पंचायत चुनाव के 7वें चरण में एक नवविवाहिता मुखिया बनी है। कुचायकोट प्रखंड की बनकटा पंचायत से पहली बार चुनाव लड़ी महिला प्रत्याशी नीरा कुमारी मुखिया का चुनाव जीत गई है। नीरा के मुखिया बनते ही समर्थकों में जश्न का माहौल है। वहीं, पहली बार मुखिया बनने वाली महिला नीरा भी काफी उत्साहित हैं। बता दें, 17 दिन पूर्व 1 नवंबर को ही उसकी शादी हुई थी।

24 अक्टूबर को हुई थी शादी

मुखिया का चुनाव जीतीं नीरा कुमारी बनकटा पंचायत के निवासी होमगार्ड के जिलाध्यक्ष दीनानाथ मांझी की बहू है। मांझी की पत्नी रामसवारी देवी का मायका उत्तर प्रदेश में है। इस कारण चुनाव आयोग के नियमानुसार उन्हें आरक्षण का फायदा नहीं मिलता। इस कारण दीनानाथ मांझी ने अपने पुत्र अरुण की शादी तत्काल रामपुर खरेया गांव में 24 अक्टूबर को नीरा कुमारी से तय की और 25 अक्टूबर को नामांकन पर्चा दाखिल कराया। 30 अक्टूबर को उन्हें सिंबल मिला।

इसके बाद 1 नवंबर को धूमधाम से दोनों की शादी हुई। 7वें चरण के चुनाव के लिए 15 नवंबर को मतदान हुआ। बुधवार हुई मतगणना में उसके भाग्य का फैसला हुआ। और करीब 2356 मत पाकर नीरा चुनाव मुखिया बनीं। नीरा कुमारी ने अपने प्रतिद्वंद्वी निवर्तमान मुखिया कलीदया देवी को 1768 मतों के अंतर से पराजित किया। कलिदया देवी को सिर्फ 588 वोट मिले।

सत्ता संग्राम: कुचायकोट, भोरे से जदयू और बरौली, गोपालगंज से भाजपा की हुई जीत वहीं हथुआ, बैकुंठपुर से राजद ने मारी बाजी!