गोपालगंज के कटेया में महिला की मौत से आक्रोशित लोगों ने रेफरल अस्पताल में काटा बवाल

335

कटेया नगर में स्थित रेफरल अस्पताल में शुक्रवार को एक महिला की मौत होने के बाद आक्रोशित लोगों ने जमकर बवाल काटा। इस दौरान अस्पताल के मुख्य गेट पर ताला जड़ दिया। आक्रोशित लोग महिला का इलाज करने में दूरी करने तथा लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहे थे। सूचना मिलने पर अस्पताल पहुंचे बीडीओ तथा थानाध्यक्ष ने आक्रोशित लोगों को समझाकर शांत कराने के बाद मुख्य गेट का ताला खुलवाया।

बताया जाता है कि कटेया नगर के खुरहुरिया गांव निवासी 45 वर्षीय माया देवी को शुक्रवार की सुबह सांस लेने में दिक्कत की शिकायत पर स्वजन उन्हें इलाज के लिए कटेया रेफरल अस्पताल लेकर गए। अस्पताल में मौजूद चिकित्सक व कर्मियों द्वारा इलाज में विलंब किए जाने पर स्वजन रोष प्रकट करने लगे। इसके बाद महिला का ऑक्सीजन लेवल की जांच करने के साथ ही एंटीजेन कीट से कोविड 19 की जांच की गई। जांच में महिला कोरोना पॉजिटिव मिलीं। महिला के कोरोना पॉजिटिव मिलने पर चिकित्सकों ने उन्हें हथुआ स्थित कोविड केयर सेंटर रेफर कर दिया। महिला को कोविड केयर सेंटर ले जाने की तैयारी की जा रही थी कि इसी बीच महिला की मौत हो गई। महिला की मौत होने के बाद आक्रोशित स्वजनों ने बवाल काटना शुरू कर दिया। इस दौरान अस्पताल के मुख्य गेट पर ताला जड़ दिया गया। इसी बीच सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे बीडीओ राकेश कुमार चौबे तथा थानाध्यक्ष सुमन कुमार मिश्र ने आक्रोशित लोगों को समझाकर शांत कराते हुए मुख्य गेट का ताला खुलवारा दिया। इस संबंध में रेफरल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. भगवान लाल सिंह ने बताया की एंटीजेन कीट से जांच में महिला के कोरोना पॉजिटिव मिलने पर उन्हें कोविड केयर सेंटर हथुअ रेफर कर दिया गया था। इसके कुछ देर बाद महिला की मौत हो गई।

मांझा: हाईवे पर ट्रक व कार की टक्कर में महिला की मौत, पुत्र घायल