उचकागांव: किसान की सूझबूझ से अपहरण हुआ नाकाम

447

गोपालगंज जिले से एक किसान की सूझबूझ से बहुत बड़ी घटना को अंजाम देने से अपराधी चूक गये. जानकारी के मुताबिक, चकजोगा गांव में रविवार की देर शाम शौच करने गये एक अधेड़ किसान को बोलेरो पर सवार अपराधियों ने अगवा कर लिया. इसके बाद अपराधी उन्हें लेकर जादोपुर थाने के विशुनपुर गांव की ओर लेकर चले गये. किसी तरह अधेड़ किसान वहां से जान बचाकर भाग निकलने में सफल रहा और जादोपुर थाने पहुंचा. इसके बाद जादोपुर थाने की पुलिस ने उचकागांव थाने को सूचना दी और सोमवार को उचकागांव पहुंचा भी दिया.
बताया गया कि चकजोगा गांव निवासी अधेड़ किसान सुभाष बीन रविवार की देर शाम शौच करने के लिए खेतों की तरफ गये थे. इसी दौरान बोलेरो पर आये कुछ अपराधियों ने कपड़े से सिर ढंककर उन्हें जबरन बोलेरो पर बैठा लिया और लेकर चले गये.वहीं, देर रात तक घर के सदस्य खोजबीन करते रहे , लेकिन कुछ पता नहीं चला. इसके बाद उनकी पत्नी आसमां खातून उचकागांव थाने में पहुंची और पति के अगवा कर लेने की लिखित शिकायत दर्ज करायी. पीड़िता के बयान पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर मामले की तत्काल छानबीन शुरू भी कर दी.
इसी बीच जादोपुर थाने से फोन पर सुभाष बीन के बरामद होने की जानकारी उचकागांव थाने को दी गयी. साथ हीं जादोपुर थाने की पुलिस ने उन्हें उचकागांव थाने में भी पहुंचा दिया. पीड़ित ने उचकागांव पुलिस को बताया कि बोलेरो पर सवार अपराधी उन्हें अगवा कर जादोपुर थाने के विशुनपुर गांव के समीप ले जाकर एक झाड़ी में रख दिये थे. वहां से वह किसी तरह अपनी जान बचाकर भाग निकला और जादोपुर थाने में पहुंचकर पुलिस को आपबीती सुनायी. जिसके बाद पुलिस ने उचकागांव थाने को उसके बरामद होने की सूचना दी. इधर, स्थानीय थाने की पुलिस इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर छानबीन कर रही है. थानाध्यक्ष राजीव नंदन सिन्हा ने बताया कि जांच टीम का गठन कर लिया गया है. जल्द हीं मामले का खुलासा हो जायेगा.