गोपालगंज के उचकागांव में पानी भरे गड्डे में डूबने से पूर्व सरपंच के पौत्र समेत दो मरे

255

उचकागांव थाने के सलेमपट्टी गांव में पानी भरे गड्ढे में डूबने से पूर्व सरपंच के पोते समेत दो की मौत हो गई। मृतकों में पूर्व सरपंच के पुत्र जितेन्द्र मांझी का एकलौता बेटा इशांत कुमार व एक गांव की लुलु कुमारी थी। परिवार के सदस्य शव का बिना पोस्टमार्टम कराए ही शव को अपने घर लेकर रवाना हो गए। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि रविवार को बारिश होने के दौरान सुबह में इशांत कुमार व उसके साथ गांव की एक किशोरी गांव के समीप ही स्थित रेलवे लाइन के समीप बने गड्ढे में घोंघा चुनने के लिए गए थे।

इस दौरान पानी भरे गड्ढे में डूब गए। दोपहर में आसपस के लोग जब उधर गए तो देखा कि दोनों का शव पानी के ऊपर तैर रहा है। इसके बाद घटना की सूचना पूरे गांव में आग की तरह फैल गई। फिर इसकी जानकारी जब परिजनों को हुई तो वे आनन-फानन में पानी भरे गड्ढे से दोनों को बाहर निकालकर हथुआ अनुमंडलिय अस्पताल में लेकर गए। जहां डॉक्टरों ने उन्हें बेहतर इलाज के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल में भेज दिया। इमरजेंसी वार्ड में तैनात डॉक्टरों ने दोनों की जांच के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया। दोनों की मौत होने की पुष्टि होने के बाद परिवार के सदस्य उनके शव का बिना पोस्टमार्टम कराए ही लेकर अपने गांव चले गए। उचकागांव थानाध्यक्ष अब्दुल मजीद ने बताया कि घटना की सूचना नहीं मिली है। सूचना मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

कुचायकोट: गड्ढे में पलटी स्कूल बस, आधा दर्जन बच्चे घायल