गोपालगंज के थावे में अबॉर्शन कराने गई महिला का झोलाछाप डॉक्टर ने निकाल लिया युट्रस, गंभीर हालत में दिल्ली में चल रहा इलाज

727

गोपालगंज जिले के थावे थाना क्षेत्र के गोनियार गांव में झोलाछाप डॉक्टर ने अबॉर्शन के बाद महिला का युट्रस निकाल लिया. डॉक्टर की इस अमानवीय हरकत के बाद पीड़िता की हालत गंभीर है. उसे दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां वह जीवन के लिए संघर्ष कर रही है.

इधर, मामला संज्ञान में आने के बाद शुक्रवार की शाम सिविल सर्जन डॉ. योगेंद्र महतो के नेतृत्व में पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक पर छापेमारी की और आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार डॉक्टर की पहचान गोनियर गांव निवासी कपिलदेव तिवारी के बेटे अरविंद कुमार तिवारी के रूप में की गई है.

दिल्ली में चल रहा है इलाज:

छापेमारी के दौरान क्लीनिक से कई प्रतिबंधित दवाएं जब्त की गई हैं, जिसकी ड्रग विभाग से जांच कराई जा रही है. वहीं, इस कार्रवाई से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है. सिविल सर्जन ने झोलाछाप डॉक्टर की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि महिला का ऑपरेशन कर ऑबोर्शन के बाद युट्रस निकाल लिया गया था. दिल्ली में महिला का इलाज चल रहा है.

इस मामले में थावे थाने में प्रखंड चिकित्सा प्रभारी पदाधिकारी मांझा के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर गिरफ्तार झोलाछाप डॉक्टर को जेल भेजने की कार्रवाई देर शाम तक चल रही थी. छापेमारी टीम में थावे के थानाध्यक्ष किरण शंकर के अलावा स्वास्थ्य विभाग के डीपीएम धीरज कुमार, थावे व मांझा प्रखंड के चिकित्सा प्रभारी पदाधिकारी शामिल थे.

क्लीनिक खोल करता था भ्रूण हत्या:

सिविल सर्जन के नेतृत्व में छापेमारी हुई तो भ्रूण हत्या किए जाने का मामला सामने आया. छापेमारी के दौरान अधिकारियों ने पाया कि गांव में क्लिनिक खोल गैरकानूनी तरीके से भ्रूण हत्या का धंधा किया जा रहा था. यहां हर रोज पांच से सात लोग दलाल के चुंगल में फंसकर आते थे.

क्लीनिक को तत्काल किया गया सील:

छापेमारी के दौरान ही अधिकारियों की टीम ने झोला छाप डॉक्टर के क्लीनिक को तत्काल सील कर दिया. क्लीनिक के अंदर से दवा, जांच उपकरण, भ्रूण हत्या और गर्भाशय निकालने वाले उपकरण आदि को बरामद किया गया. आसपास के इलाके में खुले अन्य झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिकों पर छापेमारी करने का निर्देश दिया गया है.

विजयीपुर: झोलाछाप डॉक्टर ने ली मासूम की जान