गोपालगंज के थावे में स्‍कॉर्पियो में सवार थे छह बकरे, सातवां चढ़ता इससे पहले खुल गई पोल

954

गोपालगंज में बकरे आजकल स्‍कॉर्पियो की सवारी कर रहे हैं। आम लोगों के लिए लॉकडाउन में घर से निकलना भले मुश्किल हो, लेकिन बकरों की आवाजाही पर तो रोक है नहीं। गोपालगंज जिले के थावे प्रखंड के इंदरवा गांव के रहने वाले मरगूब आलम बकरियां पाल कर अपना गुजारा करते हैं। शुक्रवार की रात उनका पूरा परिवार बेफिक्र सोया, तभी घर के बिल्‍कुल पास गाड़ी की आवाज सुनकर मरगूब की नींद खुल गई। यह देखने के लिए इतनी रात को कौन आया, उन्‍होंने बाहर झांका तो देखा कि एक स्‍कॉर्पियो उनके दरवाजे पर रुकी है। इसके बाद उन्‍होंने जो देखा, उसे देखकर उनकी आंखें फटी की फटी रह गईं।

बकरे को स्‍कॉर्पियो में लाद रहे थे

मरगूब के मुताबिक उन्होंने देखा कि एक स्कार्पियो उनके घर के बाहर रुकी है, चालक सीट पर  बैठा  है तथा चार लोग उनका बकरा चुरा कर स्कार्पियो में लाद  रहे हैं। बकरा स्कार्पियो में लादते देखकर वे शोर मचाने लगे। शोर सुनकर ग्रामीणों को आते देख स्कार्पियो में सवार लोग भागने लगे, लेकिन ग्रामीणों ने दौड़कर एक व्यक्ति को पकड़ लिया। हालांकि चार लोग फरार हो गए।

पटना का रहने वाला है बकरी चोर

ग्रामीणों से सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पकड़े गए आरोपित को गिरफ्तार करते हुए स्कार्पियो को जब्त कर लिया, पुलिस ने स्‍कॉर्पियो से छह बकरे बरामद किए हैं। थावे के थानाध्यक्ष किरण शंकर ने बताया कि गिरफ्तार किया गया आरोपित पटना जिला के हवाई अड्डा थाना क्षेत्र के ऑल मोलो रोड वार्ड नंबर नौ, क्वार्टर नंबर-छह कौशल नगर चितकोहरा निवासी वेदप्रकाश है।

एक को भेजा जेल, बाकी की तलाश जारी

फरार हो गए इसके साथी पटना जिला के हवाई अड्डा थाना क्षेत्र के चितकोहरा निवासी सन्नी पासवान, सुनील यादव, विक्की कुमार तथा करण यादव हैं। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वे लोग गांवों में घूमकर बकरा चुराकर उसे पटना ले जाकर बेचते थे। एक दिन पूर्व केशोपुर निवासी अधिवक्ता कमरुजमा का बकरा चुराने की बात भी सामने आई है। पूछताछ करने के बाद गिरफ्तार किए गए आरोपित को पुलिस ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

गोपालगंज में अचानक बदला मौसम का मिजाज, हवा के साथ हुई बारिश