गोपालगंज के सिधवलिया में शार्ट सर्किट से लगी आग, 28 झोपड़ी जलकर राख

146

महम्मदपुर थाना क्षेत्र के परसौनी गांव में शनिवार दोपहर बिजली के शार्ट सर्किट से एक आवासीय झोपड़ी में आग लग गई। इस दौरान झोपड़ी में रखा एक रसोई गैस सिलेंडर फट गया। इससे आग अगल-बगल की झोपड़ी में फैल गई। देखते ही देखते 28 आवासीय झोपड़ियां आग की चपेट में आ गईं। आग की चपेट में आने से तीन युवक झुलस गए। इसी बीच सूचना मिलने पर मौके पर दमकल के साथ पहुंचे फायर ब्रिगेड के कर्मियों ने घंटों प्रयास के बाद आग पर काबू पा लिया। तब तक 28 झोपड़ियों सहित उसमें रखे गए सभी सामान जलकर राख हो गए। इस अगलगी में 18 लाख रुपये कीमत की संपत्ति का नुकसान होने का अनुमान है।

बताया जाता है कि परसौनी गांव निवासी नागेश्वर महतो की आवासीय झोपड़ी में शार्ट सर्किट से आग लग गई। ये झोपड़ी में चाय की दुकान भी चलाते हैं। झोपड़ी में आग लगने से दुकान में रखा गैस सिलेंडर आग की चपेट में आने से फट गया। इससे अगल-बगल की झोपड़ियों में तेजी से फैलने लगी। आग की चपेट में आने से उमेश महतो, लक्ष्मण महतो, ज्ञानचंद महतो गंभीर रूप से झुलस गए। पूरे गांव में अफरा तफरी मच गई। आग लगने की सूचना पुलिस को देते हुए ग्रामीण आग बुझाने में जुट गए। इसी बीच दमकल के साथ फायर ब्रिगेड के कर्मी पहुंच गए। फायर ब्रिगेड के कर्मियों ने आग पर काबू पा लिया। तब तक नागेश्वर महतो, गुदर महतो, ज्ञानचंद महतो, मुन्ना महतो, नागेंद्र महतो, दुलारचंद महतो सहित 28 लोगों की आवासीय झोपड़ी तथा उसमें रखे गए सभी सामान जलकर राख हो गए। आग में झुलसे तीनों युवकों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। उमेश महतो तथा दुलारचंद महतो की हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने उन्हें मेडिकल कॉलेज गोरखपुर रेफर कर दिया। सिलेंडर की चपेट में आने से उमेश महतो का दाहिना पैर उड़ गया है।

सिधवलिया: सामान निकालने के लिए धू-धूकर जलती झोपड़ी में घुसा युवक, मौत