सास के खाते में पैसे भेजता था पति, 4 बच्चियों संग तालाब में कूदी नाराज पत्नी, 3 की मौत

826

गोपालगंज के कटेया से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक मां ही अपनी तीन बच्चियों की मौत का कारण बनी है. जानकारी के मुताबिक, झगड़ा सिर्फ इस बात को लेकर था कि पति उसकी जगह, अपने मां के खाते में पैसे भेजता था. झगड़ा इतना बढ़ गया कि महिला ने अपनी ही बच्चियों की जान लेनी चाहिए और खुद भी सुसाइड करना चाहा. महिला और एक बच्ची को बचा लिया गया. लेकिन तीन लड़कियों की जान चली गई.

जानकारी के मुताबिक, 23 जुलाई को महिला इसलिए परेशान थी कि पति ने पैसे उसके खाते की जगह सास के खाते में भेजे थे. पति से झगड़े के बाद नूरजहां ने चारों लड़कियों के साथ अपने भाई के घर जाने का फैसला किया. लेकिन बच्चियां जाने से मना करने लगीं, इसपर नूरजहां ने उनको पीटा.

पिटाई के भय से चारों बच्ची मां के साथ गांव से निकल गए.

ये लोग जैसे ही गौरा गांव के पास तालाब पर पहुंचे तो नूरजहां ने पानी पिलाने के बहाने सभी बच्चियों को आगे किया. फिर देखते ही देखते उसने एक-एक करके अपनी बच्चियों को तलाब में फेंक दिया और फिर खुद भी कूद गई. संयोगवश कुछ ग्रामीणों ने इस घटना को देख लिया. उन्होंने किसी तरह नूरजहां और एक बच्ची फरमान को जिंदा बचा लिया. जबतक और लोग आए तबतक तीन अन्य बच्ची गुलाब सा, नूरसब्बा और तैयबा की मौत हो चुकी थी.

मां को पैसे भेजता था नूरजहां का पति

कवलरही गांव के असलम आलम अपने परिवार के पालन पोषण करने के लिए बिहार में रोजगार करते हैं. जबकि गांव में उनकी मां आले खातून और उसकी पत्नी नूरजहां सहित चार बेटियां क्रमशः गुलाब सा, नूरसब्बा, तैय्ब्बा और अफरान रहते थे.

नूरजहां की सास आले खातून ने कहा कि मेरा लड़का असलम आलम रुपये कमाकर मेरे खाते में भेजता है. इसको लेकर नूरजहां मेरे बेटे से हमेशा झगड़ा करती रहती थी. इसी कारण उसने ऐसा किया. वहीं जिंदा बची बच्ची ने कहा कि मम्मी ने मामा के घर चलने को कहा था. फिर मना करने पर उनको पीटा भी था. बच्ची ने भी बताया कि मां ने ही उनको तालाब में फेंककर खुद भी छलांग लगा ली थी.

हथुआ एसडीपीओ नरेश कुमार के मुताबिक अपने तीन बच्चियों को जान से मारने के आरोप में नूरजहां को गिरफ्तार कर लिया गया है और आगे कार्रवाई की जा रही है.

विजयीपुर: जमीन हड़पने के लिए की गई थी महिला की हत्या!