स्वास्थ्य समाचार: सदर अस्पताल में चरमराई कोरोना जांच की व्यवस्था

507

कोरोना संक्रमण के प्रति लोगों की लापरवाही के बीच अब सदर अस्पताल में भी कोरोना जांच के लिए की गई व्यवस्था चरमरा गई है। सदर अस्पताल परिसर में अस्पताल आने वाले लोगों की कोरोना जांच के लिए दो काउंटर खोले गए हैं। शुरुआती दिनों में दोनों काउंटर पर कर्मियों की तैनाती रही। लेकिन, अब दोनों काउंटर पर से कर्मी गायब हो गए हैं। अस्पताल में आने वाले लोगों की कोरोना जांच का काम अब बंद हो गया है।

कोरोना महामारी को लेकर लॉकडाउन लगने के बाद सदर अस्पताल सहित सभी अस्पतालों में आने वाले लोगों की कोरोना जांच करने की व्यवस्था की गई। इस व्यवस्था के तहत सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड तथा ओपीडी के बाहर काउंटर बनाये गये। जहां कर्मियों की तैनाती की गई। इन काउंटरों पर अस्पताल आने वाले सभी लोगों की कोरोना जांच करने के बाद ही इमरजेंसी वार्ड तथा ओपीडी में जाने दिया जा रहा था। काउंटर पर तैनात कर्मियों को थर्मल स्क्रीनिग मशीन उपलब्ध कराई गई। वहां सैनिटाइजर की भी व्यवस्था की गई। बिना मास्क पहने आने वाले लोगों को वापस भेजने की भी व्यवस्था की गई। लेकिन, अब कोरोना जांच के लिए की गई यह सारी व्यवस्था चरमरा गई है। मंगलवार को सदर अस्पताल आने वाले अधिकांश लोग बिना मास्क के दिखे। इमरजेंसी वार्ड तथा ओपीडी के बाहर खोले गए कोरोना काउंटर से कर्मी गायब मिले। अधिकांश स्वास्थ्य कर्मियों के चेहरे पर भी मास्क नहीं दिखा। जिस स्वास्थ्य विभाग के जिम्मे कोरोना जांच की जिम्मेदारी है, उसी सदर अस्पताल में कोरोना के प्रति उदासीनता साफ नजर आई। इस संबंध में पूछे जाने पर सिविल सर्जन डॉ.टीएन सिंह ने कहा कि कोरोना जांच के लिए की गई व्यवस्था का कड़ाई से पालन कराया जाएगा। कोरोना जांच काउंटर से कर्मियों के गायब रहने की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

गोपालगंज में कोरोना जांच कराने पहुंचा आरोपित हथकड़ी निकाल कर हुआ फरार