विदेश ले जाने का सपना दिखाती थी मधु कुमारी उर्फ निशा, अब सिर पीट रहे गोपालगंज के 50 से अधिक लोग

515

विदेश भेजने वाली युवती के चक्‍कर में पड़कर बिहार के करीब 50 लोग अपना सिर पीट रहे हैं। इन सभी की जेब तो खाली हुुुई ही, इनका पासपोर्ट भी हाथ से निकल गया है। मधु कुमारी उर्फ निशा ने इनको ऐसा चूना लगाया कि कोई मरहम अब काम नहीं कर रहा है। मामला गोपालगंज जिले के मीरगंज का है।

केनरा बैंक के नजदीक खोला था ब्रांच 

मीरगंज थानाध्यक्ष छोटन कुमार ने बताया कि मीरगंज नगर में स्थित केनरा बैंक की शाखा के समीप एक युवक ने एक युवती के नाम से आफिस खोला। इसमें लोगों को विभिन्न देशों में भेजने की बात कहते थे। साथ ही अच्छी खासी सैलरी दिलाने की बात भी करते थे। इस दौरान मीरगंज थाना क्षेत्र के सिहोरवा गांव निवासी अजय राम, मंजीत कुमार, राहुल कुमार सहित करीब 50 लोग आफिस में जाकर अपना पासपोर्ट व पैसा जमा कर दिए।

बुधवार को सभी को वीजा देने के लिए बुलाया था

आफिस में मौजूद एजेंट उचकागांव थाना क्षेत्र के वृदावंन गांव निवासी रामा सिंह की पुत्री मधु कुमारी उर्फ निशा के द्वारा सभी लोगों को जल्द से जल्द विदेश भेजने की बात कही गई। इस दौरान मंगलवार को सभी लोग पासपोर्ट व जमा पैसा के बारे में पूछताछ करने के लिए जब पहुंचे तो आफिस में कार्यरत एजेंट सह कर्मी मधु कुमारी उर्फ निशा ने बुधवार को सभी लोगों को वीजा देने की बात कही थी।

कार्यालय बंद कर फरार हो गए ठग

बुधवार को जब सभी लोग वीजा लेने के लिए उनके पास पहुंचे तो देखा कि आफिस का बोर्ड गायब है। साथ ही आफिस के बाहर ताला लटका हुआ है। इसके बाद विदेश जाकर अच्छी कमाई करने की ख्वाब देखने वाले लोगों के होश उड़ गए। सभी लोगों आनन-फानन में मीरगंज थाना में पहुंच कर इसकी जानकारी थानाध्यक्ष छोटन कुमार को दी। इसके बाद पुलिस की टीम मधु कुमारी उर्फ निशा की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी अभियान शुरू कर दी है।

टूरिस्ट वीजा देकर बेरोजगार युवकों को भेज दिया दुबई, 20 दिनों तक भटकने के बाद लौटे वतन