50 हजार का इनामी अपराधी को पुलिस ने हरियाणा से किया गिरफ्तार

372

जिले की पुलिस के लिए सिरदर्द बना 50 हजार के इनामी कुख्यात विवेक सिंह को पुलिस की टीम हरियाणा के पानीपत से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार विवेक सिंह पर गोपालगंज जिले के विभिन्न थाना के साथ यूपी के कई थानों में हत्या, लूट, रंगदारी व हत्या के प्रयास जैसे मामले दर्ज है।

उसकी गिरफ्तारी के लिए पटना से पहुंची एसटीएफ की टीम के साथ पुलिस की टीम हरियाणा में कई दिनों से छापेमारी अभियान चला रही थी। इसकी जानकारी कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान एसपी आनंद कुमार ने दी। एसपी आनंद कुमार ने बताया कि भोरे थाना क्षेत्र के दक्षिण टोला निवासी व्यास सिंह के बेटा कुख्यात विवेक सिंह करीब दस साल पूर्व से लूटपाट की घटनाओं को अंजाम देता था। उसने अपने सहयोगी के साथ मिलकर भोरे के चर्चित व्यवसायी रामाश्रय सिंह की गोली मार कर हत्या कर दी। इसके साथ ही कुख्यात विवेक सिंह ने आसपास के कई थानों में लूटपाट व हत्या के प्रयास जैसी घटनाओं को अंजाम दिया है। कुख्यात विवेक सिंह पर यूपी के कई थाना में भी लूटपाट के मामले दर्ज है। उसकी सक्रियता को देखकर पुलिस मुख्यालय के द्वारा उसपर पचास हजार का इनाम की घोषणा कर दी गई। इसके बाद कुख्यात विवेक सिंह बिहार व यूपी को छोड़कर हरियाणा के पानीपत में रहकर अपने गिरोह का संचालक करने लगा। इसकी भनक जैसे ही गोपालगंज एसपी आनंद कुमार को लगी कि एसपी ने हथुआ एसडीपीओ नरेश कुमार के नेतृत्व में एक टीम बनाकर उसे हरियाणा भेज दिया। टीम में शामिल एसटीएफ व पुलिस ने पानीपत में छापेमारी कर कुख्यात विवेक सिंह को गिरफ्तार कर लिया। अपने रिश्तेदार के यहां शरण लेकर रहता था कुख्यात हरियाणा के पानीपत से गिरफ्तार कुख्यात विवेक सिंह हरियाणा में अपने एक रिश्तेदार के यहां शरण लेकर रहता था। कुख्यात विवेक सिंह ने भोरे के व्यवसायी रामाश्रय सिंह की हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद वह कुख्यात विशाल सिंह गिरोह के संपर्क में आ गया। इसके बाद कुख्यात विशाल सिंह व कुख्यात विवेक सिंह के साठगांठ के बाद लगातार कई रंगदारी व लूट की घटनाओं को भी अंजाम दिया गया था। इस दौरान पुलिस दबिश के बाद कुख्यात विवेक सिंह हरियाणा के पानीपत में अपने एक रिश्तेदार के यहां जाकर शरण ले लिया। इसकी भनक पुलिस को लग गई। इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

दिल्ली से गिरफ्तार विवेक पुरी के दो सहयोगियों को भी पुलिस ने उठाया