गोपालगंज के इंदरवा में मां-बहन के सामने युवक को पड़ोसियों ने पीट-पीटकर मार डाला

438

नगर थाना क्षेत्र के इन्द्रवा अब्दुल्लाह गांव में मंगलवार की तड़के चोरी के आरोप में लोगों ने रंगेहाथ पकड़ कर 22 वर्षीय युवक जहांगीर आलम की जमकर पिटाई कर दी। बिजली के खंभे से बांधकर युवक की पिटाई की जाने लगी। खबर मिलने के बाद युवक की मां-बहन वहां पहुंची। लोगों से बेटे को छोड़ने की गुहार लगाती रही। लेकिन लोगों ने मां के सामने की बेटे को पीट-पीटकर मारा डाला। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। मामले की जांच करने के बाद शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया। इधर स्‍वजनों ने आरोप लगाया है कि वह खैनी मांगने पड़ोसी के यहां गया था। पुराने विवाद में उनलोगों ने जहांगीर को मार डाला है।

घर में घुसकर चोरी के आरोप में पोल से बांधकर पीटा 

आरोप है कि सफीउल्लाह अंसारी का बेटा जहांगीर आलम अपने ही पड़ोस के इरफान आलम के घर में मंगलवार की तड़के करीब तीन बजे घुसकर चोरी कर रहा था। इस दौरान इरफान आलम की नींद खुल गई। उसने शोर मचाते हुए जहांगीर को पकड़ लिया। पहले तो उसने जहांगीर की पिटाई की। अंधेरा छंटने के बाद जुटे लोगों ने जहांगीर को बिजली के पोल में बांध दिया। इसके बाद सभी बेरहमी से उसपर टूट पड़े। इस घटना की सूचना पर पहुंची जहांगीर की मां बेटे को छोड़ देने की गुहार लगाती रही। लेकिन लोगों पर जैसे खून सवार था। वे जहांगीर को तब तक पीटते रहे जबतक उसकी सांसें नहीं थम गईं। जहांगीर के स्‍वजनों का कहना है कि जब उसकी मौत हो गई तो उनलोगों ने कहा कि इसे ले जाओ। इसके बाद मुखिया व चौकीदार सूचना पर पहुंचे। फिर पुलिस पहुंची। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में पुलिस ने इरफान आलम समेत तीन को हिरासत में लिया है। युवक के पिता सफीउल्लाह अंसारी ने बताया कि मंगलवार की सुबह करीब छह बजे उनका बेटा पड़ोसी के यहां खैनी मांगने गया था।

गोपालगंज में दबंगों ने दो महादलित युवक को बांधकर पीटा फिर चढ़ा दी बाइक, एक की मौत