गोपालगंज में नये वेरिएंट के बीच बढ़ रही सांस के मरीजों की संख्या, चार लोगों की मौत से मचा हड़कंप

350

कोरोना के नये वेरिएंट ओमिक्रोन को लेकर जारी अलर्ट के बीच सांस के रोगियों की संख्या बढ़ने लगी है. सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में पिछले 24 घंटे में दो महिलाओं समेत चार मरीजों की मौत हो गयी. मरनेवालों में 22 साल और 38 साल की महिलाएं शामिल हैं. डॉक्टरों के मुताबिक लंग्स में इन्फेक्शन होने और सांस में दिक्कत होने पर इन मरीजों को भर्ती कराया गया था.

वहीं सांस के आधा दर्जन से अधिक मरीजों का इलाज चल रहा है. डॉक्टरों के मुताबिक जिन मरीजों की मौत हुई, उनमें सिधवलिया थाना क्षेत्र के सल्लेहपुर गांव के दीपक राज की पत्नी 22 वर्षीय मनीषा देवी, सिधवलिया के हिम्मतपुर गांव के उपेंद्र सिंह की पत्नी 38 वर्षीया रानी देवी, जादोपुर थाना क्षेत्र के सेमरा नवादा गांव के 55 वर्षीय सुदर्शन प्रसाद तथा जादोपुर के सिहोरवा गांव के 61 वर्षीय रामचंद्र साह शामिल हैं.

इमरजेंसी वार्ड के डॉक्टर के मुताबिक 30 दिसंबर की शाम से लेकर 31 दिसंबर की सुबह तक सभी मौतें इलाज के दौरान हुई हैं. इनके अलावा शुक्रवार को मांझा थाना क्षेत्र के कोइनी भैसही गांव के बंशू चौधरी, महम्मदपुर थाना क्षेत्र के कटेया टोला के दुर्बल प्रसाद तथा मांझा के कर्णपुरा अहिर टोला की रामावती देवी समेत अन्य मरीजों को सांस लेने की दिक्कत होने और लंग्स में इंफेक्शन होने पर भर्ती कराया गया है. कोरोना के नये वैरिएंट को लेकर हर तरह अलर्ट जारी है. इन सब के बीच सांस से संबंधित मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है. सावधानी नहीं बरती जा रही. बिना मास्क के मरीज और अटेंडेंट अस्पताल में शुक्रवार को देखे गये. स्वास्थ्यकर्मी भी बिना मास्क के मिले.

गोपालगंज: एनआईए की कार्रवाई के बाद हाई अलर्ट