गोपालगंज में अनियंत्रित ट्रैक्टर ने स्कूटी सवार दंपती को रौंदा, पत्नी की मौत

260

नगर थाना क्षेत्र के थावे स्टेशन रोड स्थित सेमरा गांव के समीप गुरुवार को एक अनियंत्रित ट्रैक्टर ट्राली ने स्कूटी सवार दंपती को रौंद दिया। इस हादसे के बाद जख्मी हालत में आशा फैसिलेटर व उनके पति को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान आशा फैसिलेटर की मौत हो गई। हादसे के बाद चालक फरार हो गया।

फुलवरिया थाना क्षेत्र के फुलवरिया गांव निवासी आशा फैसिलेटर रीता यादव अपने पति सुनील यादव के साथ स्कूटी पर सवार होकर थावे आ रही थीं। इसी बीच अभी थावे स्टेशन रोड में स्थित सेमरा गांव के समीप पहुंचे थे। इसी दौरान अनियंत्रित ट्रैक्टर ट्राली ने स्कूली सवार आशा फैसिलेटर व उनके पति को रौंद दिया। हादसे के बाद आसपास के लोगों ने दोनों घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान आशा फैसिलेटर रीता यादव की मौत हो गई। पति सुनील यादव का चिकित्सकों की देखरेख में इलाज किया जा रहा है। घटना की सूचना मिलने के बाद नगर इंस्पेक्टर ललन कुमार मौके पर पहुंचे और मामले की जांच करने लगे। पुलिस ने आशा फैसिलेटर के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। हादसे के बाद पुलिस ने ट्रैक्टर ट्राली को जब्त कर लिया है। फरार चालक की तलाश की जा रही है।

समय पर इलाज नहीं होने का पति ने लगाया आरोप

सदर अस्पताल में घायल अवस्था में पहुंचे दंपती में पत्नी रीता यादव की हालत काफी नाजुक थीं। चिकित्सक के नहीं रहने के कारण रीता यादव का दस मिनट बाद इलाज शुरू हुआ। इसके कारण उनकी मौत हो गई। जख्मी पति सुनील यादव ने कहा कि सदर अस्पताल में आने के बाद करीब दस मिनट तक इलाज के अभाव में पत्नी कराहती रही। समय पर इलाज हो गया होता तो पत्नी बच जाती। अस्पताल प्रबंधक सिद्धार्थ कुमार ने बताया कि सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में हमेशा चिकित्सक तैनात रहते हैं। मरीज के आने के साथ ही उनका इलाज शुरू हो जाता है। इलाज में लापरवाही की शिकायत मिलने पर जांच की जाएगी।

थावे: जीप-स्कूटी की टक्कर में युवक की मौत