संसद भवन फर्जी गेट पास मामला: JDU सांसद का मंत्री जनक राम पर गलतबयानी का आरोप

226

गोपालगंज (Gopalganj) से जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) के सांसद डॉ. आलोक कुमार सुमन (Alok Kumar Suman) के नाम पर संसद भवन का फर्जी गेट पास (Sansad Bhawan Fake Gate Pass) बनवाने का विवाद थम नहीं रहा है.

बिहार के खान व भूतत्व मंत्री जनक राम (Janak Ram) के इस पर सफाई देने के अगले दिन सांसद आलोक कुमार सुमन ने उन पर गलत बयानी का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि तीन सितंबर को उन्होंने लोकसभा के अध्यक्ष, गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस को संसद भवन में फर्जी गेट पास को लेकर शिकायत दर्ज करवाई थी. जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने बिहार आकर मंत्री जनक राम के पीए और पीएस को गिरफ्तार किया था.

अपने आप्त सचिवों की गिरफ्तारी के बाद मंत्री जनक राम ने कहा था कि शिकायत मिलते ही उन्होंने अपने आप्त सचिव बबलू आर्या और ज्योति भूषण को सस्पेंड कर दिया था. इस पर सांसद आलोक कुमार सुमन ने कहा कि मंत्री गलतबयानी कर रहे हैं. क्योंकि मंत्री के आप्त सचिव बबलू आर्या के 10 अक्टूबर और 12 अक्टूबर को टूर लेटर पर हस्ताक्षर हैं जिसमें उसने आप्त सचिव के हैसियत से मंत्री जनक राम का टूर प्रोग्राम जारी किया था. यानी मंत्री के द्वारा अपने आप्त सचिव को बचाने की कोशिश की जा रही है.

दिल्ली पुलिस ने बीते शनिवार को गोपालगंज आकर मंत्री जनक राम के आप्त सचिव को संसद में प्रवेश के फर्जी पास मामले में गिरफ्तार किया था

जेडीयू सांसद ने कहा कि यह संसद भवन और देश की सुरक्षा का सवाल है इसलिए मंत्री जनक राम को दिल्ली पुलिस की जांच में सहयोग करना चाहिए. उन्होंने दावा किया कि पिछले बुधवार को दिल्ली पुलिस ने दोनों आप्त सचिवों को दिल्ली तलब किया था. इससे एक दिन पहले ही जनक राम खुद अपने पीएस बबलू आर्य को लेकर दिल्ली गए थे. सांसद आलोक कुमार सुमन ने मंत्री जनक राम पर अपने दोनों सचिवों को बचाने का आरोप लगाया है.

संसद भवन का बनवाया फर्जी एंट्री पास, मंत्री जनक राम के दोनों सचिव समेत तीन गिरफ्तार