गोपालगंज के इमरजेंसी वार्ड में एक-एक कर थम गईं चार मरीजों की सांसें

292

कोरोना की दूसरी लहर के बीच लोगों में सांस लेने में दिक्कत की समस्या बढ़ती जा रही है। लगातार पांचवें दिन गुरुवार को भी सांस लेने में हो रही दिक्कत से संबंधित काफी संख्या में मरीज सदर अस्पताल पहुंचे। इन मरीजों को सदर अस्पताल में भर्ती कर ऑक्सीजन चढ़ाकर इलाज शुरू किया गया। लेकिन ऑक्सीजन चढ़ाने के बाद भी एक-एक कर चार मरीजों की सांसें थम गई। इनकी मौत हो गई। इन चार मरीजों की मौत से अब तक सांस लेने में दिक्कत के कारण मरने वाले मरीजों की संख्या 25 तक पहुंच गई है।

बताया जाता है कि गुरुवार को सांस लेने में दिक्कत व दम घुटने की समस्या से पीड़ित दो दर्जन लोग सदर अस्पताल पहुंचे। जिन्हें इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कर ऑक्सीजन चढ़ाया गया। कोरोना जांच में इन सबकी रिपोर्ट निगेटिव मिली। लेकिन ऑक्सीजन चढ़ाए जाने के बाद भी चार मरीजों का ऑक्सीजन लेवल गिरता चला गया। एक-एक कर इन चार मरीजों की सांसें थम गईं। गुरुवार को इमरजेंसी वार्ड में सांस लेने में हो रही दिक्कत की शिकायत पर भर्ती किए गए चार मरीजों की मौत होने के बाद स्वास्थ्य महकमा में काफी बेचैन दिखी। इन चार मरीजों की मौत से अब तक सांस लेने में दिक्कत से पीड़ित मरीजों की मरने की संख्या 25 तक पहुंच गई है। जिन मरीजों की सांसें थम गईं, वे जादोपुर थाना क्षेत्र के हीरापाकड़ गांव निवासी रामबालक राय, शहर के साधु चौक निवासी गणेश शर्मा, गोपालपुर थाना क्षेत्र के पकड़ीहार निवासी अनिल प्रसाद तथा उचकागांव के कपरपुरा गांव निवासी रंजीत बीन थे।

गोपालगंज सदर अस्पताल में एक-एक कर थम गईं 11 मरीजों की सांसें