गोपालगंज में कोविड-19 टीकाकरण के प्रति आमजनों को जागरूक करें मुखिया व जनप्रतिनिधि: डीएम

86

कोविड-19 टीकाकरण के प्रति आमजनों को जागरूक करें मुखिया व जनप्रतिनिधि: डीएम

• वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से डीएम ने की टीकाकरण कार्यों की समीक्षा

• 45 वर्ष या उससे ऊपर के सभी सरकारी कर्मी टीकाकरण करवाना सुनिश्चित करें

गोपालगंज। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिले में टीकाकरण अभियान जोर-शोर से चल रहा है। टीकाकरण अभियान की लगातार मॉनिटरिंग जिला व प्रखंड स्तर पर की जा रही है। शनिवार को जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 से संबंधित सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी और मुखिया के साथ बैठक की गई। बैठक में जिला पदाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी ने निर्देश दिया कि 45 वर्ष के ऊपर के सभी सरकारी कर्मियों को टीकाकरण कराना सुनिश्चित करें। जिला पदाधिकारी ने कहा कि टीकाकरण के लक्ष्य को शत प्रतिशत हासिल करने के लिए प्रयास किया जा रहा है और इस दिशा में संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है। जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी ने सिविल सर्जन व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को लक्ष्य के अनुरूप टीकाकरण कराने का निर्देश दिया। डीएम ने बताया कि 1 अप्रैल से 45 वर्ष से ऊपर के सभी व्यक्तियों के लिए टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है। टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने के लिए टीकाकरण केंद्रों की संख्या भी बढ़ाई गई है।

आम जनों को जागरूक करें मुखिया व जनप्रतिनिधि:

जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी ने बैठक के दौरान मुखिया व जनप्रतिनिधियों से अपील करते हुए कहा कि टीकाकरण के प्रति आम जनता को जागरूक करने में सहयोग करें। ताकि अधिक से अधिक लाभार्थियों को टीकाकरण किया जा सके और संक्रमण से बचाव के लिए खुद को और अपने परिवार को सुरक्षित रख सके। डीएम ने कहा कि आम जनता को जागरूक करने में मुखिया व पंचायत के जनप्रतिनिधियों का सहयोग अपेक्षित है। इस अभियान में हर वर्ग के लोगों को शामिल करना जरूरी है। इस बैठक में सिविल सर्जन डॉक्टर योगेंद्र महतो, डीपीएम धीरज कुमार, सहयोगी संस्थाओं के प्रतिनिधि समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

टीकाकरण को लेकर कोई भी भ्रांति नहीं रखें:

डीएम ने कहा देश के वैज्ञानिकों पर गर्व करना चाहिए कि वह इतने कम समय में इस महामारी से रक्षा के लिए वैक्सीन का निर्माण करने में सफ़ल हुए हैं। अब 45 वर्ष या उससे ऊपर के सभी व्यक्तियों के लिए भी टीकाकरण कार्य शुरू कर दिया गया है। उन्होंने आम लोगों से अपील करते हुए कहा कि टीकाकरण को लेकर कोई भी भ्रांति मन के अंदर नहीं रखें। टीकाकरण पूर्णत: सुरक्षित है। कोविड के बढ़ते मामलों से बचने के लिए टीकाकरण एक सुरक्षित एवं प्रभावी जरिया है।

45 साल से ऊपर के कोई भी व्यक्ति ले सकता है टीका:

डीएम ने कहा अब 45 साल से अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति अपने नजदीकी केंद्र पर पहुंच कर कोरोना का टीका ले सकेंगे। उन्होंने कहा टीकाकरण अभियान में तेजी लाने के उद्देश्य से सरकार ने 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीका लगाने का निर्णय लिया है। टीका लगाने के लिये उम्र व पहचान संबंधी सत्यापन के लिए टीकाकरण स्थल पर लोगों का अपना आधार कार्ड उपलब्ध कराना अनिवार्य होगा।

स्वास्थ्य समाचार: सदर अस्पताल में चरमराई कोरोना जांच की व्यवस्था