गोपालगंज के होटल संचालक के हत्यारों की अभीतक नहीं हुई गिरफ्तारी

250

शहर के बंजारी मोड़ स्थित होटल संचालक अमित कुमार पाल की हत्या के पांच दिन बाद भी पुलिस उनके हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है। हद तो यह कि लंबी अवधि बीतने के बावजूद पुलिस अभी तक इस बात का भी पता नहीं लगा सकी है कि, हत्या का कारण क्या है। घटना के पांच दिन बीत जाने के बावजूद पुलिस के स्तर पर कार्रवाई नहीं होने से मृत होटल संचालक के परिवार के लोगों की चिता बढ़ती जा रही है।

होटल संचालक अमित कुमार पाल की हत्या के बाद उनके बड़े भाई राधेश्याम पाल ने बताया कि हत्या के पांच दिन बीत जाने के बाद पुलिस अब तक हत्या के कारणों का पता नहीं कर सकी है। छोटे भाई की हत्या होने के कारण पूरा परिवार दहशत में है। घटना के बाद पांच दिन बीत जाने के बाद पुलिस इस मामले में अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठा सकी है। जिसके कारण अपराधियों की पहचान व उसकी गिरफ्तारी नहीं हो रही है। घटना के बाद मृतक की मां व पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है। मृतक के स्वजनों को इस बात का भी भय है कि कहीं अपराधी अब उनके परिवार के अन्य सदस्यों को भी अपना निशाना न बना लें। जिस कारण उनका पूरा परिवार दहशत के माहौल में जीवन यापन कर रहे हैं।

गोपालगंज में होटल संचालक को गोली मारने से पहले अपराधियों ने की थी रेकी

स्वजनों ने अपने घर के आसपास लगाया सीसी कैमरा:

बंजारी मोहल्ला निवासी होटल संचालक अमित कुमार पाल की गोली मार कर हत्या की घटना के बाद मृतक के स्वजन अपनी सुरक्षा को देखते हुए अपने घर के आसपास सीसीटीवी कैमरा लगा रहे है। बताया जाता है कि होटल संचालक अमित कुमार पाल की हत्या उनके घर से सौ कदम की दूरी पर गोली मार कर दिया गया था। इस घटना के बाद घर के लोग आसपास सीसीटीवी कैमरा लगा रहे है। ताकि आगे से ऐसी अनहोनी नहीं हो। अलावा इसके बंजारी मोड़ से लेकर होटल संचालक के घर तक रोड लाइट भी लगाया गया है। इस संबंध में पूछे जाने पर नगर थाना के इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार ने बताया कि हत्या की घटना के बाद पुलिस पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही है। हत्या की घटना के बाद पुलिस मृतक के मोबाइल की जांच पड़ताल कर रही है। जल्द ही इस पूरे मामले से पर्दा उठ जाएगा।

गोपालगंज में होटल संचालक की हत्या को सड़क हादसा बताकर पुलिस करती रही टालमटोल- विस्तृत रिपोर्ट