गोपालगंज आतंक मचाने वाला कुख्यात आदित्य तिवारी दिल्ली में गिरफ्तार, अकेले गोपालगंज जिले में दर्ज हैं 23 अपराधिक मामले

1153

गोपालगंज पुलिस और दिल्ली पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन चलाकर बिहार और गोपालगंज के कुख्यात अपराधी आदित्य तिवारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। कुख्यात आदित्य तिवारी को दिल्ली पुलिस ने गोपालगंज पुलिस की स्पेशल सेल के साथ हथियार के संग गिरफ्तार किया है। आदित्य तिवारी के ऊपर अकेले गोपालगंज जिले में 23 अपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आदित्य तिवारी ने हाल ही में जाधोपुर के बरईपट्टी गांव में किराना व्यवसाई की सरेआम गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी। इस मामले में भी उसके ऊपर हत्या का आरोप लगा था। इसके अलावा आदित्य तिवारी के ऊपर मांझागढ़, बरौली सहित कई कई थानों में हत्या, अपहरण, रंगदारी, लूट के मामले दर्ज हैं।


कुख्तात अपराधी व शार्प शूटर आदित्य तिवारी बरौली के पचरुखिया गांव का रहने वाला है। आदित्य को गोपालगंज पुलिस ने वर्ष 2018 में गिरफ्तार कर जेल भेजा था। लेकिन जमानत पर बाहर आने के बाद आदित्य फिर से अपराध की घटना को अंजाम देने लगा।

रेडीमेड कपड़ा व्यवसायी को गोली मारने में भी पुलिस को आदित्य पर शक
आदित्य पर गोपालगंज के मीरगंज में हथुआ रेलवे रेक पॉइंट पर गिट्टी के लिए रंगदारी मांगने और फायरिंग का भी आरोप है। इसके साथ ही हाल के दिनों के विशाम्भरपुर के सिपाया ढाला पर डॉक्टर के क्लीनिक पर 20 लाख रुपये की रंगदारी की मांग करने के बाद कार्बाइन से फायरिंग की गयी थी। इस घटना के कुछ सप्ताह के बाद दोबारा सिपाया ढाला पर रेडीमेड कपड़ा व्यवसायी को गोली मारी गयी थी। तब भी पुलिस ने कुख्यात मनीष और आदित्य तिवारी के ऊपर ही फायरिंग करने की आशंका जाहिर की थी।

विशाल सिंह कुशवाहा के गिरोह के लिए शार्प शूटर का काम करता आदित्य
कुख्यात आदित्य तिवारी, विशाल सिंह कुशवाहा के गिरोह के लिए शार्प शूटर का काम करता है। विशाल सिंह कुशवाहा बहरहाल जेल में बंद है। लेकिन वह जेल से ही अपने गिरोह का संचालन करता है और रंगदारी के लिए फायरिंग करवाता है। उसके इस गिरोह को आदित्य तिवारी और कई यूथ अपराधी संगठित तरीके से संचालित करते है।

रिमांड पर आदित्य को लेकर बिहार आएगी पुलिस
अपराधी आदित्य तिवारी को गिरफ्तार करने के लिए गोपालगंज के तत्कालीन एसपी मनोज कुमार तिवारी एसटीएफ का गठन किया था। जिसमें नगर थानाध्यक्ष प्रशांत कुमार, विशम्भरपुर थानाध्यक्ष दिनेश कुमार सहित कई अधिकारियों को दिल्ली में भेजा गया था। इन्हीं अधिकारियों के इनपुट पर दिल्ली पुलिस ने आदित्य तिवारी को उसके दो साथियों के साथ पिस्तौल के साथ गिरफ्तार किया है। बहरहाल दिल्ली पुलिस कोर्ट में आदित्य तिवारी और उसके साथियों को हाजिर करेगी, जिसके बाद गोपालगंज पुलिस इस अपराधी को रिमांड पर लेकर बिहार में आएगी।

गोपालगंज के चौरांव रेलवे पुल से पकड़ा गया कुख्यात छोटेलाल दो दर्जन से अधिक वारदात को अंजाम दे चुका है