भोरे में युवक की हत्या मामले में चार माह बाद भी नहीं हो सकी हत्यारों की गिरफ्तारी

320

भोरे थाना क्षेत्र के स्याही नदी के किनारे करीब चार माह पूर्व एक युवक की चाकू से हमला व शरीर के कई हिस्सों पर वार कर उनकी हत्या कर दी गई थी। हत्या के बाद पुलिस मामले में प्राथमिकी दर्ज करने के बाद चार माह बीत जाने के बाद भी आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी। वहीं, बेटे की हुई निर्मम हत्या के बाद न्याय के लिए पिता कभी एसपी तो कभी डीजीपी को पत्र भेज कर हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

बताया जाता है कि भोरे थाना क्षेत्र के भोपतपुर गांव निवासी अली अहमद अंसारी के पुत्र इरफान अंसारी की 18 सितंबर 2021 को घर से बुलाकर ले लाने के बाद अज्ञात अपराधियों ने उनकी भोरे स्याही नदी के किनारे चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। इस दौरान अपराधियों ने इरफान अंसारी के शरीर के विभिन्न हिस्सों पर भी चाकू से हमला कर मौत के घाट उतार दिया था। हत्या के बाद इरफान अंसारी के पिता अली अहमद अंसारी के बयान पर पुलिस अज्ञात बदमाशों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। इस मामले में करीब चार माह बीत जाने के बाद भी एक भी हत्यारे की गिरफ्तारी नहीं हो सकी। वहीं, बेटे की हत्या के बाद न्याय के लिए भटक रहे पिता अली अहमद अंसारी ने बताया कि बेटे की हत्या के बाद लगातार थानाध्यक्ष से हम संपर्क में रहे। पुलिस काल डिटेल के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने के बाद उसे छोड़ दी। वहीं, हत्या में शामिल एक भी अपराधी को पुलिस गिरफ्तार करना तो दूर उन्हें चिह्नित भी नहीं कर सकी। उन्होंने बताया कि बेटे की हत्या के बाद उन्होंने एसपी से लेकर डीजीपी तक को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। इस मामले में अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो सकी।

हत्या में शामिल अपराधियों को चिह्नित कर लिया गया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी अभियान चला रही है। जल्द ही हत्या में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

नरेश कुमार, हथुआ एसडीपीओ

गोपालगंज के भोरे में भोपतपुरा गांव में हुई युवक की हत्या मामले में तीन लोग हिरासत में