गोपालगंज के भोरे में थाना में उत्पात मचाने के मामले में 55 लोगों पर प्राथमिकी, चार गिरफ्तार

468

एक यूएसवी को टक्कर मारने के बाद भाग रही कार का पीछा करते हुए भोरे थाना में घुसकर उत्पाद मचाने के मामले में 55 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस मामले में अलग-अलग तीन प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस ने चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। अन्य आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी अभियान चला रही है।

गुरुवार की देर शाम थाना क्षेत्र के बनकटा मल गांव निवासी सुभाष चौहान अपने ही गांव के एक युवक के साथ भिगारी बाजार से अपनी कार से घर लौट रहे थे। इसी दौरान थाना क्षेत्र के पाखोपाली गांव के पास पूर्व मुखिया स्वर्गीय अली राजा मियां के पुत्र मोहम्मद खुर्शीद खां की इनोवा खड़ी थी। जिसमें कार ने टक्कर मार दिया। टक्कर मारने के बाद कार लेकर सुभाष चौहान आगे बढ़े थे कि दो दर्जन बाइक व अन्य वाहनों से 40 से 50 लोग कार का पीछा करने लगे। लोगों को पीछा करते देख कार सवार युवक कार लेकर सीधे भोरे थाना में चले गए। इसी बीच पीछा कर रहे लोग भी थाना में घुस गए तथा कार में सवार युवकों को कार से खींच कर उनकी पिटाई कर दी। कार को ईंट पत्थर से मारकर क्षतिग्रस्त कर दिया। कार सवार सुभाष चौहान के गले से सोने की चेन, मोबाइल फोन और 70 हजार रुपये छीन लिया। आक्रोशित लोगों को समझाने आए एसआइ उमाशंकर यादव तथा अन्य पुलिस कर्मियों पर हमला कर थाना में रखे समान को नष्ट कर दिया गया। इस मामले में तीन अलग अलग प्राथमिकी दर्ज की गई है। पहली प्राथमिकी में एसआइ उमाशंकर सिंह यादव ने पाखोपाली गांव निवासी खुर्शीद खां, कमरूद्दीन खां, उत्तर प्रदेश के देवरिया जिला के सलेमपुर निवासी अमजद अहमद तथा 50 अज्ञात लोगों को आरोपित बनाया है। दूसरी प्राथमिकी में कार में सवार सुभाष चौहान तथा तीसरी प्राथमिकी खुर्शीद खां के बयान पर दर्ज की गई है। इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपित खुर्शीद खां, अमजद अहमद, सुभाष चौहान तथा मुकेश कुमार को गिरफ्तार कर शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। अन्य आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी अभियान चला रही है।

 

बाइक से पीछा करके बीजेपी नेता पर हमला, गोपालगंज के मांझागढ़ थाने के धामापाकड़ की घटना