गोपालगंज के बरौली में जादू टोना के चक्कर में की गई थी डेयरी संचालक की गला काट कर हत्या

596

बरौली थाना क्षेत्र के रुपनछाप गांव में गुरुवार की देर शाम डेयरी संचालक जितेंद्र भगत की गला काट कर हत्या जादू टोना के चक्कर में की गई थी। डेयरी संचालक तांत्रिक भी थे। इस हत्याकांड में मृतक के पुत्र के बयान पर पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस ने आरोपित के घर पर छापेमारी की। छापेमारी में आरोपित के घर से पुलिस ने एक रायफल तथा चार जिदा कारतूस बरामद किया। हालांकि आरोपित पुलिस की छापेमारी से पहले की घर छोड़कर फरार हो गए थे।

DJHÕÚUæ×Î ÚUæ§È¤Ü ß ·¤æÚUÌêâ

रुपनछाप गांव निवासी जितेंद्र भगत अपने गांव में डेयरी चलाते थे। इसके साथ ही ये तांत्रिक भी थे। गुरुवार की देर शाम जितेंद्र भगत अपनी डेयरी पर थे। इसी बीच वहां पहुंचे बदमाशों ने जितेंद्र भगत को पकड़ लिया तथा धारदार हथियार से गला काट कर इनकी हत्या करने के बाद शव को खेत में फेंक दिया। इस घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने डेयरी संचालक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। इस हत्याकांड में मृतक के पुत्र विजय कुशवाहा के बयान पर रुपनछाप गांव निवासी विरेंद्र यादव सहित पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसमें बताया गया है कि आरोपित विरेंद्र यादव की पुत्री की तबीयत कुछ दिनों से खराब चल रही थी। इसी बीच बच्ची की मौत हो गई। विरेंद्र यादव को शक था कि पड़ोसी तांत्रिक जितेंद्र भगत ने उनकी बेटी पर जादू टोना कर दिया था। गुरुवार की देर शाम विरेंद्र यादव अपने परिवार के लोगों के साथ जितेंद्र भगत की डेयरी पर पहुंच गया तथा धारदार हथियार से गला तथा एक हाथ काट कर उनकी हत्या कर दी। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पुलिस ने आरोपित विरेंद्र यादव के घर पर छापेमारी किया। छापेमारी में उसके घर से पुलिस ने एक रायफल तथा चार जिदा कारतूस बरामद किया। हालांकि पुलिस के पहुंचने से पहले की आरोपित घर छोड़कर फरार हो गए थे। थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार ने बताया कि मृतक के पुत्र के बयान पर पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी अभियान चला रही है।

गोपालगंज में होटल संचालक की हत्या को सड़क हादसा बताकर पुलिस करती रही टालमटोल- विस्तृत रिपोर्ट