आठ टुकड़ों में काटकर कर दी थी अपने ही चाचा की हत्या, तीन साल के बाद गोपालगंज पुलिस के हत्थे चढ़ा आरोपित

837

गोपालगंज जिले की पुलिस ने एक हत्यारे को करीब तीन साल बाद गिरफ्तार कर लिया है। इस शख्स ने अपने ही चाचा की हत्या बेरहमी से कर दी थी। इसके बाद से पुलिस लगातार उसे ढूंढ रही थी, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल रहा था। बरौली थाना क्षेत्र के बढ़ेया मोड़ के समीप एनएच 27 पर वाहन जांच के दौरान वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उन्हें पहले ही इस बात का पता चल चुका था कि आरोपित इस रास्ते से गुजरेगा। उसे देखते ही पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए आरोपित से पूछताछ करने के बाद पुलिस ने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

बताया जाता है कि बरौली थाना क्षेत्र के भड़कुईया गांव में साल 2018 में आपसी विवाद को लेकर अनिल सिंह की धारदार हथियार से आठ टुकड़ों में काट कर हत्या कर दिया गया था। इस हत्याकांड में मृतक के भतीजा दीपक सिंह उर्फ पुन्नू सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद आरोपित फरार हो गया। पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। लेकिन वह पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सका।

इसी बीच शनिवार को बरौली थानाध्यक्ष अमरेंद्र कुमार को सूचना मिली कि अपने चाचा की हत्या करने के मामले में आरोपित दीपक सिंह बरौली बाजार से वाहन में सवार होकर बढ़ेया की तरफ निकला है। इस सूचना पर पुलिस के साथ बढ़ेया मोड़ के समीप पहुंचे कर थानाध्यक्ष एनएच 27 पर वाहन चेकिंग अभियान चलाने लगे। इसी दौरान पुलिस ने एक वाहन को रोका तो उसमें से कूद कर दीपक सिंह भागने लगा, जिसे दौड़ाकर पकड़कर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए आरोपित से पूछताछ करने के बाद पुलिस ने उसे न्यायिक हिरासत मेंं जेल भेज दिया।

गोपालगंज: शीपू हत्याकांड- पार्षद के मोबाइल पर पत्नी रश्मि ने 17 बार की थी कॉल