गोपालगंज में प्रेमिका से मिलने गए प्रेमी की हत्या, लड़की के घरवालों ने सिर काटकर गंडक नदी में फेंकी लाश

1389

गोपालगंज में 3 अगस्त से गायब चल रहे शख्स का सिर कटा शव नदी से बरामद हुआ है. मृतक के परिजनों का आरोप है कि प्रेम प्रसंग की वजह से उसकी हत्या कर दी गई. पुलिस ने फिलहाल 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि युवती और उसके परिजन फरार हैं.

मामला गोपालगंज के विशम्भरपुर थाना के रूपछाप गांव का है जहां के प्रेम कुमार पिछले पांच साल से अपने गांव से पांच किलोमीटर दूर सिपायाखास गांव की एक युवती अंशु कुमारी से प्रेम करता था. लेकिन यह प्रेम प्रेमिका के घरवालों को नहीं सुहाता था. नतीजा यह हुआ कि पिछले 3 अगस्त को अपनी प्रेमिका के बुलावे पर प्रेमी उससे मिलने के लिए उसके घर पहुंचा, फिर वहां से कथित रूप से गायब हो गया. जब वह अपने घर नहीं लौटा तो उसके बड़े भाई ने अपहरण, हत्या करने की आशंका को लेकर थाने में शिकायत दर्ज कराई. जिसमें चार लोगों को अभियुक्त बनाया गया.

गर्दन काट कर नदी में फेंका

शिकायत के बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए डॉग स्क्वॉयड और फोरेंसिक टीम की सहायता ली. इसके बाद रविवार को गंडक नदी से पुलिस ने शव बरामद कर लिया. साथ ही तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. हालांकि गिरफ्तारी के भय से प्रेमिका और दो अन्य नामजद अभियुक्त घर छोड़ फरार हो गए हैं.

मृतक के भाई का कहना है कि घर से अपने प्रेमिका से मिलने प्रेम कुमार सिपायाखास गांव गया था. वहां उसकी गर्दन को काट कर नदी में फेंक दिया गया था. काफी तलाश के बाद आज गर्दन कटा शव मिला है.

गोपालगंज के एसडीपीओ नरेश पासवान ने बताया कि 3 अगस्त की रात रूपछाप गांव के प्रेम कुमार नामक लड़का अपने प्रेमिका अंशु कुमारी से मिलने गया था. इसी दौरान वहां जाने पर उसके परिजनों ने उसे गायब कर दिया था. इस संबंध में विशम्भरपुर थाना काण्ड संख्या 97/2021 दर्ज हुई है. आज डेड बॉडी नदी में मिली है. इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है.

रात में फोन कर प्रेमिका ने मिलने के लिए बुलाया, इसके बाद लापता हो गया गोपालगंज के कुचायकोट का युवक