थावे : हमले में घायल दुकानदार की मौत, ग्रामीणों ने जाम की सड़क

थाना क्षेत्र के मुकेरी टोला के समीप रॉड से हमले में घायल दुकानदार की इलाज के दौरान मौत हो गई। दुकानदार की मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने मुकेरी गांव के समीप एनएच 85 को जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। ग्रामीण दुकानदार पर हमला करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। पांच घंटे तक हाईवे जाम कर देने से सड़क के दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। बाद में मौके पर पहुंचे सदर एसडीओ उपेंद्र, एसडीपीओ नरेश पासवान तथा नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार राय ने ग्रामीणों को समझा कर शांत करा दिया। दुकानदार की हत्या करने के मामले में मृतक के भाई के बयान पर सात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी अभियान चला रही है।

बताया जाता है कि मुकेरी टोला गांव निवासी कैलाश साह थावे बाजार में टेंट की दुकान चलाते थे। बीते 23 सितंबर की शाम सात बजे ये अपनी दुकान बंद कर अपने ही गांव के निवासी संतोष प्रसाद के साथ साइकिल से अपने घर लौट रहे थे। तभी मुकेरी टोला के समीप ही पहले से घात लगाकर बैठे कुछ लोगों ने कैलाश साह पर रॉड से हमला कर उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया। इस घटना के बाद घायल दुकानदार को इलाज के लिए सदर अस्पताल ले जाया गया। जहां से उन्हें गोरखपुर रेफर कर दिया। गोरखपुर से भी घायल दुकानदार को चिकित्सकों ने इलाज के लिए दिल्ली रेफर कर दिया। जहां इलाज के दौरान घायल कैलाश साह की मौत हो गई। इस घटना को लेकर मृतक के भाई किशुनदेव साह ने मुकेरी टोला गांव निवासी प्रेम साह, जगंलिया मोहल्ला निवासी जगदीश प्रसाद, नवका टोला भेड़िया गांव निवासी राजेंद्र चौधरी, हरबांसा गांव निवासी लक्ष्मण प्रसाद, पुरानी चौक निवासी अनिल कुमार आनंद उर्फ गणेश व गोविद प्रसाद तथा तिरबिरवां गांव निवासी तारकेश्वर प्रसाद सहित सात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई। लेकिन प्राथमिकी दर्ज होने के बाद भी किसी आरोपित की गिरफ्तारी नहीं होने से आक्रोशित ग्रामीण सड़क पर उतर आए। ग्रामीणों ने मंगलवार को मुकेरी गांव के समीप एनएच 85 को जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। ग्रामीण दुकानदार हत्याकांड के आरोपितों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। घंटों सड़क जाम कर दिए जाने के बाद दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। बाद में मौके पर पहुंचे सदर एसडीओ उपेंद्र पाल, एसडीपीओ नरेश पासवान व नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार राय ने ग्रामीणों को समझा कर शांत कर दिया। प्रदर्शन करने वालों में मनीष गुप्ता, अलाउद्दीन मियां, श्यामबिहारी गुप्ता, युगल प्रसाद, संजय प्रसाद, मगरू प्रसाद, किशुनदेव साह, राहुल, सुनील कुमार, बच्चा पाण्डेय, राजन कुमार, संतोष प्रसाद, शत्रुध्न प्रसाद सहित काफी संख्या में ग्रामीण शामिल रहे।

5 total views, 2 views today