प्रसव पीड़ा के बाद इलाज के लिए पंचदेवरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराई गई एक महिला व उसके बच्चे की प्रसव के दौरान मौत हो गई। महिला व नवजात की मौत के बाद परिवार के लोग अचानक आक्रोशित हो गए तथा अस्पताल में हंगामा शुरु कर दिया। घटना क सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे पिकेट प्रभाी ने उग्र परिजनों के समझाकर शांत कराया।

जानकारी के अनुसार कटेया थाना क्षेत्र के जैसवली गांव के राहुल गुप्ता की पत्नी रंजू देवी प्रखंड के नटवा गांव स्थित अपने मायके आयी हुई थी। इसी दौरान उसे प्रसव पीड़ा प्रारंभ हुई। प्रसव पीड़ा प्रारंभ होने के बादउसके मायके लोग रंजू देवी को लेकर इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पंचदेवरी पहुंचे। स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक की अनुपस्थिति में वहां तैनात एएनएम अनु कुमारी ने महिला का प्रसव कराना प्रारंभ किया। प्रसव के दौरान इस बात की जानकारी हुई कि महिला के पेट में जुड़वा बच्चे हैं। पहले बच्चे का सुरक्षित जन्म होने के बाद दूसरे बच्चे के जन्म के समय महिला व उसके पेट में मौजूद दूसरे बच्चे की मौत हो गई। महिला व उसके बच्चे की मौत की खबर जैसे ही परिवार के लोगों को हुई वे आक्रोशित होगा अस्पताल में हंगामा करने लगे। हालांकि कुछ देर बाद पहुंची पुलिस ने परिवार के लोगों को समझाकर शांत करा दिया।