कुचायकोट : बलथरी चेक पोस्ट पर 1014 कछुओं के साथ चालक धराया

कुचायकोट थाने के बलथरी चेक पोस्ट पर बुधवार की सुबह उत्पाद विभाग की टीम ने एक गाड़ी से तस्करी कर ले जाए जा रहे कछुए की बड़ी खेप को बरामद किया है। यूपी से सोलह बोरियों में 1014 कछुओं को रखकर  मुजफ्फरपुर की ओर ले जाया जा रहा था।  पुलिस ने गाड़ी के चालक को गिरफ्तार कर लिया। तस्कर मौके से फरार हो गया। गिरफ्तार कछुओं की कीमत करोड़ों रुपए आंकी जा रही है।

वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार बरामद कछुए दुर्लभ प्रजाति के हैं। प्रजाति की पहचान के लिए पटना से विशेषज्ञों की टीम को बुलाया गया है।  गिरफ्तार वाहन चालक उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले के जगदीशपुर गांव का सन्नी बताया गया है। उससे वन विभाग की टीम पूछताछ कर रही है।  बताया गया है कि बलथरी चेक पोस्ट पर उत्पाद विभाग की टीम वाहनों की जांच कर रही थी। इस दौरान उत्तर प्रदेश की ओर से गाड़ी आती दिखाई दी।  टीम के सदस्यों ने शक के आधार पर गाड़ी को रोक कर  तलाशी ली तो बोरियों में रखे कछुए को बरामद किया गया।  पूछताछ के दौरान ही एक तस्कर चकमा देकर फरार हो गया। बाद में उत्पाद विभाग की टीम ने वन विभाग को कछुआ व पकड़े गए चालक को सौंप दिया।

वन क्षेत्र पदाधिकारी राकेश कुमार गुप्ता ने बताया कि चालक से पूछताछ की जा रही है। कछुओं की जब्ती सूची बनाकर कोर्ट में चालक को पेश किया जाएगा। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

रैकेट के खुलासे की संभावना
गोपालगंज के डीएफओ ने बताया कि तस्करी के कछुए बरामद किए जाने की सूचना वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो को दी गई है। शुरुआती जानकारी के अनुसार छानबीन से एक बड़े रैकेट के खुलासे की संभावना है। कुछ दिन पूर्व यूपी में भी छह सौ कछुए के साथ तस्कर गिरफ्तार किए गए थे। चालक के मोबाइल को जब्त कर लिया गया है। कॉल डिटेल्स निकालने की कार्रवाई की जाएगी।

चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन देंगे निर्देश
बरामद कछुओं को मुक्त करने के संबंध में चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डेन निर्देश देंगे। इसके बाद उसे किसी नदी या दूसरे जगह पर मुक्त किया जाएगा।

कछुए की बरामदगी मामले की तफ्तीश की जा रही है। वरीय पदाधिकारी भी यूपी पुलिस व संबंधित अधिकारी के संपर्क में हैं। अभी बरामद कछुए की कीमत नहीं बतायी जा सकती है। इसकी प्रजाति की पहचान होने के बाद ही एक्सपर्ट कीमत बता पाएंगे।
अभिषेक कुमार सिंह,डीएफओ

259 total views, 1 views today

खबर प्रकाशन संबंधित जानकारी