• “स्वास्थ्य जीवन- एक महत्वपूर्ण पहल” स्लोगन पर चल रहा जागरूकता अभियान
• 25 से 31 अक्टूबर तक होगा प्रचार-प्रसार
गोपालगंज। दिपावली एवं महापर्व छठ पूजा पर बिहार से बाहर रोजगार करने वाले प्रवासी लोग वापस अपने घर लौटने लगे हैं। घर लौटे परदेसियों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। प्रवासियों को जागरूक करने के लिए जिला स्वास्थ्य समिति से जागरूकता रथ निकाली गयी है। रथ को डीपीएम अरविन्द कुमार, केयर इंडिया के डीटीएल मुकेश कुमार सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर केयर इंडिया के फैमली प्लानिंग कॉर्डिनेटर अमित कुमार, अस्पताल प्रबंधक अमरेंद्र कुमार सिंह, डॉ. डीके मौर्या, सदर बीएचएम सिद्धार्थ कुमार, अंचल प्रीतम, अशवनि कुमार सिंह आदि मौजूद थे। शुक्रवार के जिले के सभी प्रखंडो मे जागरूकता रथ को रवाना किया गया। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों ने रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। जागरूकता रथ गांव-गांव जाकर लोगों को परिवार नियोजन के बारे में जागरूक करेगी। इसमें जागरूकता वैन में परिवार नियोजन के साधनों के साथ अस्पताल के कर्मियों को भी भेजा गया है।

परिवार नियोजन के साधनों का होगा वितरण:
इस अभियान के दौरान लाभार्थी परिवार को परिवार के बीच परिवार नियोजन के साधनों का वितरण किया जायेगा। त्यौहार के लिहाज से यह समय अत्यधिक महत्वपूर्ण होने वाला है। इस दिशा में स्वास्थ्य विभाग ने इस अवधि के दौरान अधिक से अधिक प्रवासी लोगों को परिवार नियोजन पर जानकारी देने एवं साधनों के इस्तेमाल को सुनिश्चित करने के लिए अभियान चलाने का फैसला लिया है।

25 से 31 अक्टूबर तक होगा प्रचार-प्रसार:
जिले के सभी प्रखंडों में जागरूकता वैन के माध्यम से प्रचार-प्रसार शुरू हो चुका है। इस दौरान लक्षित लाभार्थियों तक सरलता पूर्वक सूचना पहुंचाने व प्रचार-प्रसार हेतु ऑडियो वीडियो के माध्यम से भी जागरूक किया जायेगा। स्वास्थ्य विभाग के ओर से आये वीडियों को लाभार्थियों के दिखाया जायेगा और उन्हे परिवार नियोजन के बारे में विस्तार से समझाया जायेगा।
जागरूकता वैन दिया गया ये स्लोगन:
जिले में चलायी जा रही है जागरूकता वैन पर स्लोगन के माध्यम से भी प्रचार किया जा रहा है। बैनर पर- स्वास्थ्य जीवन- एक महत्वपूर्ण, पत्नी हमेशा रखे याद- स्वस्थ्य जीवन की सही जानाकरी पूरी तैयारी खुलकर करें बात। जैसे स्लोगन लिखा गया है।

गृह भ्रमण करेंगी आशा कार्यकर्ता:

परिवार नियोजन पखवाड़े के तहत 20 नवंबर तक आशा एवं आशा फैसिलिटेटर द्वारा लक्षित प्रवासी परिवारों में गृह भ्रमण के दौरान परामर्श दिया जाएगा। इस समय दी गई परामर्श सामग्री का उपयोग करते हुए दंपतियों को परिवार नियोजन के विभिन्न साधनों की जानकारी दी जाएगी।दंपतियों से बात कर उपयुक्त समय में गर्भधारण और बच्चों के बीच सही अंतराल के साथ स्वास्थ्य जीवन जीने हेतु आशाओं द्वारा परामर्श दिया जाएगा।

क्या कहते हैं डीपीएम:
दिपावली व छठ पूजा पर घर लौटने वाले प्रवासियों को परिवार नियोजन के बारे में जागरूक करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह कदम उठाया गया है। इसके अंतर्गत जिले में अभियान की शुरूआत कर दी गयी है।
अरविन्द कुमार, डीपीएम, जिला स्वास्थ्य समिति, गोपालगंज