हथुआ: परिजनों की प्रताड़ना और पिटाई से पीड़ित महिला ने जब लिया गांधीगिरी का सहारा, हरकत में आयी पुलिस

परिवार की प्रताड़ना और पिटाई से आजिज महिला को मीरगंज थाने में कार्रवाई के लिए गांधीगिरी पर उतरना पड़ा. महिला पति, देवर और ससुर के खिलाफ कार्रवाई के लिए धरना पर बैठ गयी. तीन घंटे तक धरना पर बैठने के बाद अंतत: पुलिस हरकत में आयी तथा उसकी लिखित शिकायत दर्ज कर कार्रवाई शुरू की. बाद में घायल महिला को इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया.

पीड़ित महिला मीरगंज वार्ड 11 के राजेश प्रसाद गुप्ता की पत्नी मुन्नी देवी (40 वर्ष) है. मुन्नी देवी पर इससे पहले भी 24 नवंबर को चाकुओं से हमला किया गया था. पुलिस से शिकायत करने पर पुलिस सिर्फ कोरम पूरा कर लौट गयी. पति और ससुर के प्रभाव में उसे न्याय नहीं मिल रहा था. पीड़ित महिला का आरोप है कि दहेज के लिए परिजन बार-बार प्रताड़ित करते थे. इस बीच उसके पति का किसी गैर महिला से संबंध का पता चला तो उसने अपने मोबाइल में उसकी अश्लील हरकतों को रिकॉर्ड कर लिया, उसका विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की गयी, उसका भी रिकॉर्ड मोबाइल में कर लिया. इसकी जानकारी उसके पति और परिजनों को मिली तो मोबाइल छिन कर साक्ष्य मिटाने के लिए मंगलवार को उसे पीटा गया. इसकी शिकायत जब थाना में लेकर पहुंची तो पुलिस उसकी बात नहीं सुन रहे थे. अतत: उसे धरना पर बैठना पड़ा.

यहाँ प्रकाशित सभी खबरें इंटरनेट पर मौजूद विभिन्न श्रोतों से ली गयी हैं, खबरों की सत्यता तथा त्रुटियों के लिए Gopalganj.ORG जिम्मेदार नहीं! धन्यवाद!