हथुआ: भूमि विवाद में दो पक्ष भिड़े, अधेड़ की मौत, नौ घायल

मीरगंज थाना क्षेत्र के रानी सिरिसिया गांव में सोमवार को भूमि विवाद को लेकर दो पक्ष के लोग आपस मे भिड़ गए। इस दौरान लाठी डंडा से हमला कर एक अधेड़ क पीट पीटकर हत्या कर दी गई। इस हमले में नौ अन्य लोग घायल हो गए। इस घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने अधेड़ के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। सभी घायलों को भी सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों को बयान दर्ज कर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तर कर लिया। अन्य आरोपत घर छोड़कर फरार हो गए हैं। पुलिस फरार आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी अभियान चला रही है।

बताया जाता है कि रानी सिरिसिया गांव निवासी 55 वर्षीय केदार चौधरी का अपने पट्टीदार हीरामन चौधरी से जमीन संबंधित विवाद चल रहा था। सोमवार को केदार चौधरी तथा इनके परिवार के सदस्य विवादित जमीन पर खर पतवार रख रहे थे। जिसे देखकर हीरामन चौधरी तथा उनके परिवार के सदस्य विरोध करने लगे। जिसको लेकर दोनों पक्ष के लोग आपस में भिड़ गए। इसी दौरान लाठी डंडा से हमला कर केदार चौधरी को पीट-पीटकर मार डाला गया। इस हमले में दूधनाथ चौधरी, चंदा कुमारी, अलका कुमारी, संजू कुमारी, बबन चौधरी सहित नौ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। ग्रामीणों से इस घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने अधेड़ के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। हमले में घायल सभी लोगों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना को लेकर घायलों का बयान दर्ज कर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए स्वामीनाथ चौधरी, अशोक चौधरी सहित तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। अन्य आरोपित घर छोड़कर फरार हो गए हैं। पुलिस फरार आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी कर रही है।

दो माह से जमीन को लेकर दोनों पक्ष में चल रहा था विवाद:

मीरगंज थाना क्षेत्र के रानी सिरिसिया गांव में दो माह से केदार चौधरी तथा इनके पट्टीदार हीरामन चौधरी के बीच जमीन संबंधित विवाद चल रहा था। दोनों का घर आपस पास है। दोनों घर के पास की एक जमीन पर अपना अपना दावा कर रहे थे। इसी बीच सोमवार को विवादित जमीन पर केदार चौधरी तथा उनके परिवार को सदस्य खर पतवार रहने लगे। जिसको लेकर दोनों पक्ष के लोग आमने सामने आ गए तथा इसी दौरान लाठी से हमला कर दिया गया। इस हमले में केदार चौधरी की मौके पर ही मौत हो गई तथा नौ लोग घायल हो गए।

यहाँ प्रकाशित सभी खबरें इंटरनेट पर मौजूद विभिन्न श्रोतों से ली गयी हैं, खबरों की सत्यता तथा त्रुटियों के लिए Gopalganj.ORG जिम्मेदार नहीं! धन्यवाद!