हथुआ : पथराव मामले में 18 नामजद व दौ सौ अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी

नागरिकता संशोधन कानून तथा एनआरसी के खिलाफ शनिवार को राजद के बिहार बंद के दौरान हथुआ बाजार के गोपाल मंदिर के समीप हुए पथराव मामले में हथुआ थाना के थानाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार ने 18 लोगों को खिलाफ नामजद तथा दो सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। हथुआ बाजार में हुए पथराव में अनुमंडल पदाधिकारी हथुआ अनिल कुमार रमन सहित एक दर्जन लोग घायल हो गए थे। पुलिस अन्य आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी अभियान चला रही है।

शनिवार को राजद ने नागरिकता संशोधन कानून तथा एनआसी के खिलाफ बिहार बंद का आह्वान किया था। इस आह्वान पर राजद कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए थे। श्हर से लेकर सभी प्रखंडों में राजद कार्यकर्ताओं ने जुलूस ने निकाल कर दुकानों को बंद कराया था। जुलूस के दौरान ही हथुआ बाजार के गोपाल मंदिर के पास दुकान खुली देख राजद कार्यकर्ताओं ने दुकानों पर पथराव शुरू कर दिया था। पथराव के बाद दुकानदार तथा स्थानीय लोग भी गोलबंद होकर पथराव करने वालों पर ईंट पत्थर चलाने लगे। करीब 20 मिनट तक दोनों तरफ से हुए पथराव में हथुआ अनुमंडल पदधिकारी अनिल कुमार रमन सहित एक दर्जन लोग घायल हो गए थे। इस दौरान बंद समर्थकों ने बज्र वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया था। इस मामले में हथुआ थाना के थानाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार ने 18 लोगों के खिलाफ नामजद तथा दो सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। जिनके खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है उनमें मोतीपुर चिक तोली गांव निवासी शाहनवाज अहमद, समीर नमाज, राजा मियां, आसू मियां, इम्तियाज अहमद, समीम मियां, अतीक मियां, हथुआ गांव निवासी योगेंद्र प्रसाद, गौरव कुमार, आकाश सोनी, दीपक कुमार, मुन्ना कुमार, मोनी छापर गांव निवासी सूरज कुमार, उज्जवल गुप्ता, सोहागपुर गांव निवासी नीतीश कुमार, छुटकी बगही गांव निवासी दिलशाद खान, मोतीपुर चिक टोली निवासी गोल्डन मियां व गुफरान मियां शामिल हैं। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पुलिस ने तीन आरोपितों शाहनवाज मियां, समीर मियां तथा योगेंद्र प्रसाद को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अन्य आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी अभियान चला रही है। सभी आरोपित घर छोड़कर फरार हो गए हैं।

दोनों पक्ष ने भी एक दूसरे के खिलाफ दर्ज कराई प्राथमिकी:

राजद के बिहार बंद के दौरान हथुआ बाजार में हुए पथराव मामले में हथुआ थाना के थानाध्यक्ष वीरेंद्र कुमार द्वारा 18 नामजद तथा दो सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने के साथ ही इस मामले में दोनों पक्ष ने भी एक दूसरे के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें एक पक्ष के हथुआ बाजार के गोपाल मंदिर पथ पर स्थित कपड़ा दुकानदार योगेंद्र प्रसाद ने समीर मियां, राजा मियां, आसू मियां, इम्तियाज अहमद, गोल्डन मियां, गुफरान मियां, अतीक मियां, मंजूर मियां, खालिद खान, अफरोज उर्फ मेघु , अबू सुफियान, मोहसिन खान, दिलशाद खान, इमरान खान, मेराज खान, अफजल उर्फ बाबू, कौशल मियां तथा साहेब अली ने नामजद आरोपित बनाया है। दर्ज प्राथमिकी में मारपीट रने तथा दुकान में घुसकर लाखों रुपये कीमत की संपत्ति लूट लेने का आरोप लगाया गया है। वहीं दूसरे पक्ष के मोतीपुर चिक टोली गांव निवासी शाहनवाज अहमद ने गौरव कुमार, विक्की कुमार, योगेंद्र प्रसाद, नीतीश कुमार, दीपक कुमार, सूरज कुमार, उज्जवल कुमार को नामजद आरोपित बनाया है। दर्ज प्राथमिकी में मारपीट करने तथा मोबाइल फोन छीनने का आरोप लगाया गया है।

115 total views, 2 views today

खबर प्रकाशन संबंधित जानकारी