गोपालगंज : बाबरी मस्जिद की बरसी को शौर्य दिवस और काला दिवस मनाने के बीच 24 घंटे के लिए धारा-144 लागू

बाबरी मस्जिद ढांचा गिराये जाने की 26वीं बरसी को शौर्य दिवस और काला दिवस मनाये जाने की अनुमति प्रशासन से मांगे जाने को लेकर शहर में धारा-144 लगा दी गयी है. प्रशासन की ओर से धारा-144 लगाये जाने के बाद शहर में शांति छायी है. शहर में 24 घंटे के लिए धारा-144 लगा दी गयी है.

जानकारी के मुताबिक, छह दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराये जाने की 26वीं बरसी पर विश्व श्रीराम सेना के जिला संयोजक विनोद यादव द्वारा शौर्य दिवस मनाने तथा बरौली के रतन सराय स्थित राम जानकी मंदिर से जुलूस निकालने की अनुमति जिला प्रशासन से मांगी गयी थी. जिला प्रशासन ने शांतिपूर्ण जुलूस की अनुमति भी दे दी. लेकिन, बाबरी मस्जिद की 26वीं बरसी को अन्य संगठनों द्वारा काला दिवस मनाने की चर्चा पर संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन ने शांति भंग होने की आशंका के मद्देनजर शहर में धारा-144 लगा दी. साथ ही विश्व श्रीराम सेना द्वारा निकाले जानेवाले जुलूस पर भी रोक लगा दी. पूरे दिन शहर में सुरक्षा को लेकर पुलिस गश्त जारी रही. वहीं, रतनसराय मंदिर पर बीएओ चुल्हन राम को दंडाधिकारी के रूप में तैनात कर दिया गया. साथ ही एएसआई राजू चौधरी तथा भारी पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया. दूसरी ओर, बरौली मस्जिद के पास दंडाधिकारी के रूप में बीसीओ भी दल-बल के साथ मौजूद रहे. इधर, थानाध्यक्ष राजीव नंदन सिन्हा भी एसआइ रितेश मिश्रा के साथ गश्त लगाते रहे तथा शहर की गतिविधियों पर निगाह बनाये रहे. धारा-144 शुक्रवार सुबह आठ बजे तक लागू रहेगी.

यहाँ प्रकाशित सभी खबरें इंटरनेट पर मौजूद विभिन्न श्रोतों से ली गयी हैं, खबरों की सत्यता तथा त्रुटियों के लिए Gopalganj.ORG जिम्मेदार नहीं! धन्यवाद!