राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 28 पर सड़क दुर्घटना में घायल पोते की मौत के बाद इलाज के क्रम में उसके दादा की भी गोरखपुर में मौत हो गई। एक साथ दादा व पोते की मौत के बाद रविवार को सहलादपुर गांव में चीख पुकार मची रही। रविवार को दोपहर बाद एक साथ दादा व पोते की अर्थी उठने के बाद सभी लोगों की आंखें नम हो गई।

जानकारी के अनुसार शनिवार को देर शाम थाना क्षेत्र के सहलादपुर गांव के सोमारी राम अपने 12 वर्षीय पोता अंकुश कुमार के साथ कहीं से वापस अपने घर लौट रहे थे। इसी बीच हाईवे पर दानापुर के समीप एक तेज रफ्तार से आ रहे स्कॉर्पियो ने दादा व पोता को रौंद दिया। इस घटना में गंभीर रूप से घायल दादा व पोता को इलाज के लिए सदर अस्पताल में लाया गया। जहां अंकुश कुमार को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। गंभीर हालत में सोमारी राम को चिकित्सकों ने गोरखपुर मंडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। जहां इलाज के क्रम में दादा की भी मौत हो गई थी। पोस्टमार्टम के बाद दोनों का शव रविवार को गांव आने के बाद गांव का माहौल गमगीन हो गया। रविवार की दोपहर दोनो का अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस संबंध में सीओ शाहिद अख्तर ने पूछे जाने पर बताया कि मृतकों को उचित मुआवजा राशि दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *