गोपालगंज: याद किए गए शहीद शेख भिखारी

अब्दुल क्यूम अंसारी फाउंडेशन फॉर सोशल डेवलपमेंट के तत्वाधान में 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के महान योद्धा शेख भिखारी अंसारी का शहादत दिवस मनाया गया। इस मौके पर अपने संबोधन में फॉउंडेशन के सदस्य अमीरुल्लाह अंसारी ने कहा कि शेख भिखारी 1857 की क्रांति के दूसरे शहीद थे। अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई में अग्रणी भूमिका निभाने वाले बहादुर सेनापति थे। जिनकी तलवार में इतनी ताकत थी कि अंग्रेज कमिश्नर मैकडोनाल्ड ने उस जमाने के गजट में 1857 के स्वतंत्रता संग्राम का इन्हें खतरनाक बागी करार दिया था। कार्यक्रम में अमीरुल्लाह अंसारी, साबिर अंसारी, नबी हुसैन अंसारी, शाह मोहम्मद अंसारी, इस्तेखार आलम अंसारी, मोहम्मद कासिद, मुकद्दर आलम, अशरफ मोइउद्दीन, मजहर हुसैन, विकास कुमार तिवारी, अनवर हुसैन, मुस्तफा अंसारी सहित काफी संख्या में लोग मौजूद रहे।

यहाँ प्रकाशित सभी खबरें इंटरनेट पर मौजूद विभिन्न श्रोतों से ली गयी हैं, खबरों की सत्यता तथा त्रुटियों के लिए Gopalganj.ORG जिम्मेदार नहीं! धन्यवाद!