अभी-अभी:
कोरोना अप्डेट्स: 18 मार्च के बाद विदेश से लौटे सभी लोगों की होगी जांच | | Gopalganj समाचार

कोरोना अप्डेट्स: 18 मार्च के बाद विदेश से लौटे सभी लोगों की होगी जांच

18 मार्च के बाद विदेश से लौटे सभी लोगों की जांच की जाएगी। साथ ही कोरोना पॉजिटिव मिले मरीजों के परिवार के सदस्यों व उनके संपर्क में आए लोगों की भी सैंपलिग का कार्य तेजी से पूर्ण किया जा रहा है। जिले में जांच के लिए पर्याप्त किट मौजूद है। ऐसे में जांच में किसी भी तरह की देरी नहीं होगी। जिलाधिकारी अरशद अजीज ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता कर बताया कि 18 मार्च के बाद विदेश से लौटे 703 लोगों में से 366 लोगों की सैंपलिग का कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

 

जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में अबतक कोरोना पॉजिटिव के तीन मामले सामने आए हैं। पॉजिटिव मिले तीनों लोगों के संपर्क में आने वाले परिवार व अन्य 67 लोगों की सैंपलिग का कार्य भी पूर्ण कर लिया गया है। अबतक जिले में 429 लोगों की सैंपलिग की गई है। इनमें से 124 लोगों की रिपोर्ट प्राप्त हुई है। उन्होंने बताया कि क्वारंटाइन सेंटर में रखे गए चार लोगों में कोरोना के लक्षण मिले हैं। जिनकी जांच की गई है। कोरोना के संदिग्ध मरीजों पर चिकित्सकों का दल अलग से निगरानी रख रहा है। उन्होंने बताया कि विदेश से लौटे कुल 703 लोगों में से 599 लोगों को ट्रेस करने का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। शेष लोगों की तलाश प्रशासनिक स्तर पर की जा रही है। उन्होंने बताया कि पूरे जिले में कुल आठ क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। इनमें से चार सेंटर सदर अनुमंडल में तथा शेष चार सेंटर हथुआ अनुमंडल में बनाए गए हैं। जिले में कोरोना जांच के लिए पर्याप्त किट मौजूद हैं। इसकी कमी जिले में नहीं हैं। प्रेस वार्ता में एसपी मनोज कुमार तिवारी, जिला प्रोग्राम पदाधिकारी शम्स जावेद अंसारी, एसडीओ सदर उपेंद्र कुमार पाल तथा ओएसडी राकेश कुमार सहित कई पदाधिकारी मौजूद रहे।

दूसरे प्रदेश से लौटे लोगों को होम क्वारंटाइन में भेजा गया

गोपालगंज : जिलाधिकारी ने बताया कि दूसरे प्रदेश से जिले में करीब साढ़े ग्यारह हजार लोग पहुंचे हैं। इनमें से करीब 3700 लोग दूसरे जिले के निवासी थे। जिन्हें उनके जिले में भेजा गया है। अलावा इसके शेष लोगों को होम क्वारंटाइन में रखा गया है। उनकी लगातार चौदह दिनों तक निगरानी की जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी लोगों का डाटा बेस प्रशासनिक स्तर पर तैयार कर लिया गया है।

होम क्वारंटाइन से भागने वालों पर होगी कानूनी कार्रवाई:

जिलाधिकारी ने बताया कि दूसरे प्रदेश से आए लोगों को उनकी सुरक्षा के लिए होम क्वारंटाइन में रखने का निर्देश दिया गया है। लेकिन कुछ स्थानों पर इनके भागने की शिकायत मिलने के बाद ऐसे लोगों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है। उन्होंने कहा कि आज के बाद किसी भी विद्यालय में क्वारंटाइन किए गए व्यक्ति के भागने के शिकायत मिलती है, तो उसके विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

 242 total views,  1 views today

खबर प्रकाशन संबंधित जानकारी