भोरे थाना क्षेत्र के कोरेया गांव में बुधवार की रात अपने घर के पास बथान में सो रहे एक युवक की गला रेत कर हत्या का दी गई। इस वारदात की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। युवक की हत्या करने का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। हालांकि प्रेम प्रसंग में युवक की हत्या करने की आशंका जताई जा रही है। पुलिस आठ युवकों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ कर रही है।

बताया जाता है कि कोरेया गांव निवासी बैरिस्टर गुप्ता का पुत्र 18 वर्षीय दीपू कुमार गुप्ता बुधवार की शाम अपने कुछ दोस्तों के साथ घर से बाहर पार्टी करने गया था। देर रात पार्टी से आने के बाद वह अपने घर के पास स्थित बथान में सोने चला गया। युवक के बथान में पहुंचने पर वहां पहले से मौजूद उसकी मां सोने के लिए घर में चली गईं। इसी बीच बथान में पहुंचे कुछ लोगों ने गला रेत कर दीपू कुमार गुप्ता की हत्या कर दी। गुरुवार की सुबह युवक की मां बथान पर आकर गाय को नाद पर बांधने के लिए उसे पुकारने लगीं। लेकिन कोई जवाब नहीं आया तो वह बथान में पहुंची तो देखा कि उनका पुत्र मृत पड़ा था और उसके गर्दन के आसपास काफी खून गिरा हुआ था। मां के चिल्लाने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही एएसपी हथुआ अशोक कुमार चौधरी, भोरे थानाध्यक्ष जंगो राम, विजयीपुर थानाध्यक्ष संजीत कुमार के साथ ही कटेया थाना की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने ग्रामीणों को समझा कर शांत कराने के बाद युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। हत्यारों के शिकार बने दीपू कुमार गुप्ता ने दो दिन पूर्व अपनी बाइक 40 हजार रुपये में बेची थी। हत्यारे रुपया तथा युवक का मोबाइल फोन लेकर भी चले गए। मृतक की मां की निशानदेही पर पुलिस आठ युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

चार भाइयों में सबसे छोटा था दीपू:

हत्यारों का शिकार बना दीपू कुमार गुप्ता अपने चार भाइयों में सबसे छोटा था। इसकी अभी शादी नहीं हुई थी। उसका एक भाई संतोष ट्रक चालक हैं। दो भाई सुनील गुप्ता तथा गुड्डन गुप्ता विदेश में मजदूरी करते हैं। अपने भाई की हत्या कर देने की सूचना मिलने पर ट्रक लेकर बाहर गए संतोष गुप्ता घर के लिए रवाना हो चुके हैं। बताया जाता है कि हत्यारों को शिकार बना दीपू कुमार गुप्ता काफी मिलनसार था। परिजनों के अनुसार उसका किसी से विवाद नहीं था। वैसे कुछ ग्रामीणों ने प्रेम-प्रसंग में युवक की हत्या किए जाने की आशंका जताई है। समाचार लिखे जाने तक इस वारदात को लेकर प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सकी थी।

युवक की हत्या के बाद पुलिस शक के आधार पर आठ लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ कर रही है। आवेदन मिलने के बाद प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। शीघ्र ही इस वारदात को अंजाम देने वालों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

जंगो राम, थानाध्यक्ष, भोरे थाना