भोरे थाना क्षेत्र के मिश्रौली गांव निवासी एक बड़े किराना व्यवसायी को फोन कर कुख्यात मुन्ना मिश्रा ने पांच लाख रुपया रंगदारी मांगी है। रंगदारी के लिए कुख्यात के बार-बार फोन कर धमकी दिए जाने से भयभीत व्यवसायी ने इस घटना को लेकर भोरे थाना में आवेदन दिया है। जिसमें जिस नंबर से कॉल कर व्यवसायी से रंगदारी मांग की गई, उसका भी उल्लेख है। व्यवसायी के आवेदन पर कुख्यात मुन्ना मिश्रा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

पिछले कुछ समय से जिले के व्यवसायियों पर अपराधियों की नजर पड़ गई है। मीरगंज थाना क्षेत्र के मटिहानी नैन गांव निवासी कुख्यात विशाल सिंह ने पिछले कुछ समय से रंगदारी को लेकर व्यवसायियों के नाम में दम कर रखा है। रंगदारी नहीं देने पर मीरगंज एक व्यवसायी को गोली मार कर घायल करने के बाद भयभीत व्यवसासियों ने पिछले महीन मीरगंज बाजार बंद कर दिया था। हालांकि इस बीच पुलिस तथा पटना एटीएस के कुख्यात विशाल सिंह के पीछे पड़ने से व्यवसायियों का भय कुछ कम हुआ था कि काफी समय से शांत चल रहा कुख्यात मुन्ना मिश्र अब फिर सक्रिय हो गया है। हत्या, लूट, रंगदारी सहित कई संगीन मामलों में वांछित कटेया थाना क्षेत्र के पानन महुआवां गांव निवासी कुख्यात मुन्ना मिश्रा के गिरोह ने पिछले साल कटेया में एक साथ कई व्यवसायियों के यहां धावा बोल कर सनसनी फैला दिया था। हालांकि इस घटना के बाद पुलिस की दबिश बढ़ने तथा इसके गिरोह के एक सदस्य विकास सिंह की हत्या के बाद से कुख्यात मुन्ना मिश्र का गिरोह शांत हो गया था। लेकिन अब फिर कुख्यात मुन्ना मिश्र ने भोरे थाना क्षेत्र के मिश्रौली गांव निवासी बड़े किराना व्यवसायी हरेंद्र प्रसाद बरनवाल को उनके मोबाइल पर फोन कर दस लाख रुपये की रंगदारी मांग कर फिर से पुलिस को चुनौती दे दी है। कुख्यात ने 29 सितंबर से लेकर अब तक चार बार व्यवसायी को फोन कर दस लाख रंगदारी मांगते हुए धमकी दी है। बार-बार रंगदारी मांगने तथा धमकी दिखे जाने से भयभीत व्यवसायी ने इस घटना को लेकर थाना में आवेदन दिया है। पुलिस पानन महुअवां गांव निवासी कुख्यात मुन्ना मिश्रा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल कर रही है।