बरौली : छात्रा की हत्या के बाद जांच को पहुंची फॉरेंसिक टीम

बरौली थाना क्षेत्र के देवापुर स्थित प्लस टू विद्यालय में छात्रा की हत्या की हत्या के बाद मंगलवार को फॉरेंसिक टीम ने पूरी घटना की छानबीन की। इस बीच टीम के सदस्यों ने विद्यालय की संचिकाओं को भी खंगाला। घंटों चली जांच के दौरान फॉरेंसिक टीम के सदस्यों ने छात्र-छात्राओं की उपस्थिति पंजी की जांच के बाद शिक्षकों से भी पूछताछ की। उधर पुलिस ने छात्रा की हत्या के पूर्व उसके साथ दुष्कर्म किए जाने की आशंका व्यक्त की है।

 

जानकारी के अनुसार बरौली थाना क्षेत्र के देवापुर गांव की 9वीं कक्षा की एक छात्रा सोमवार की सुबह अपनी सहेलियों के साथ अपने गांव में स्थित प्लस टू विद्यालय में पढ़ने के लिए गई थी। शाम चार बजे विद्यालय की छुट्टी होने के बाद भी जब वह घर नहीं लौटी तो चिंतित परिवार के लोगों ने उसकी खोजबीन शुरू की। काफी देर खोजबीन के बाद छात्रा के स्वजन विद्यालय पहुंचे। विद्यालय के मुख्य गेट में ताला बंद देखकर गांव के लोगों ने वर्ग कक्षाओं में खिड़की के रास्ते झांककर देखना प्रारंभ किया। इसी बीच छात्रा का शव नवीं कक्षा के एक पंखे से लटकता दिखा। ग्रामीण व परिवार के लोगों की सूचना के बाद बरौली थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई तथा वर्ग कक्षा से छात्रा के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए शव को सदर अस्पताल भेज दिया। पुलिस की सूचना के बाद मंगलवार को मुजफ्फरपुर से पहुंची फॉरेंसिक टीम ने सदर अस्पताल में छात्रा के शव की जांच पड़ताल की। बाद में टीम के सदस्य बरौली स्थित देवापुर प्लस टू विद्यालय में पहुंचे तथा घटना स्थल की जांच की। इस बीच टीम के सदस्यों ने विद्यालय में छात्र उपस्थिति पंजी के अलावा अन्य कई बातों की जांच पड़ताल की। इस बीच टीम के सदस्यों ने विद्यालय के शिक्षकों से भी पूछताछ की। बरौली थाने की पुलिस ने बताया कि छात्रा के साथ दुष्कर्म की संभावना से इंकार नहीं किया जा सका। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट के साथ ही फॉरेंसिक टीम की रिपोर्ट आने के बाद ही इस बात का अंतिम तौर पर खुलासा हो सकेगा।

 

विद्यालय प्रशासन पर भी उठ रहे सवाल:

देवापुर स्थित प्लस टू स्कूल के वर्ग कक्ष में कक्षा 9 की छात्रा का शव मिलने के बाद विद्यालय प्रशासन के विरुद्ध भी सवाल उठाने लगे हैं। विद्यालय के वर्ग कक्ष में छात्रा का शव होने के बावजूद विद्यालय का मुख्य गेट बंद होने को लेकर पुलिस ने मंगलवार को विद्यालय के प्रधानाध्यापक के अलावा कई शिक्षकों से भी पूछताछ की। पुलिस ने बताया कि छात्रा की हत्या के पूर्व उसके हाथ व पैर को बांधकर हत्या को आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया गया था। उधर एसपी मनोज कुमार तिवारी ने एसडीपीओ सदर नरेश पारसवान के नेतृत्व में एक टीम का गठन कर पूरे मामले की जांच करने का निर्देश जारी किया है।

पुलिस से उलझे स्वजन, पूछा कब मिलेगा इंसाफ:

देवापुर प्लस टू स्कूल में छात्रा का शव मिलने के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। छात्रा के शव का पोस्टमार्टम कराने के लिए मंगलवार को सदर अस्पताल पहुंची पुलिस व मृत छात्रा के स्वजनों ने बीच पोस्टमार्टम कराने को लेकर नोंकझोंक प्रारंभ हो गई। स्वजनों ने कहा कि केवल पुलिस जांच कर रही है। आखिर पुलिस इस मामले में कब इंसाफ दिलाने का कार्य करेंगी। स्वजनों के उग्र होने की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार ने उन्हें समझाकर शांत कराया। जिसके बाद छात्रा के शव को पोस्टमार्टम कराया गया।

पूछताछ के लिए हिरासत में लिए गए तीन लोग:

देवापुर गांव की छात्रा की हत्या के मामले में पुलिस ने अनुसंधान के क्रम में तीन संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। हिरासत में लिए गए तीनों आरोपित से पूछताछ करने में पुलिस जुट गई है। पुलिस हिरासत में लिए गए लोगों के बारे में कुछ भी बताने से परहेज कर रही है। इस संबंध में पूछे जाने पर बरौली थानाध्यक्ष रितेश कुमार मिश्रा ने बताया कि पूछताछ की प्रकिया पूरी होने के बाद पूरी घटना का पर्दाफाश होने की संभावना है।

280 total views, 1 views today

खबर प्रकाशन संबंधित जानकारी